Breaking News

जिले में मच्छर जनित रोगों से छुटकारा पाने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम घर- घर जाकर फैला रहा जागरूकता- इडिया न्यूज लाइव डाट नेट न्यूज टीम रिपोर्टर के अनुसार

इडिया न्यूज लाइव डाट नेट न्यूज टीम

सिद्धार्थनगर : मच्छर जनित रोगों से छुटकारा पाने के लिए स्वास्थ्य विभाग जिले में जून के महीने में मलेरिया माह मना रहा है। मच्छरों के लार्वा छोड़ने से पहले ही स्वास्थ्य विभाग की टीम घर- घर जाकर जागरूकता फैला रही है। जिसमें सप्ताह में एक बार सफाई के लिए हर रविवार मच्छर पर वार स्लोगन से प्रेरित किया जा रहा है। बरसात से पूर्व ही महकमा अलर्ट होकर मच्छरों के लार्वा छोड़ने से पूर्व ही खत्म करने का प्रयास कर रहा है।

मच्छर जनित बीमारी मलेरिया से निपटने के लिए सरकार ने जून माह को मलेरिया माह घोषित किया है। इसमें पूरे महीने स्वास्थ्य विभाग की टीम आशा व एएनएम घर- घर दस्तक देकर मच्छरों से होने वाले रोग व बचाव के बारे में जागरूक कर रही हैं। इसके अलावा विभाग सीएचसी- पीएचसी स्तर पर भी स्वास्थ्य शिक्षा के माध्यम से स्कूल, पंचायत भवन, भीड़- भाड़ वाले क्षेत्रों में जागरूकता फैला रहा है। सप्ताह में रविवार का दिन इसलिए चुना गया है ताकि छुट्टी होने पर सरकारी- प्राइवेट कर्मचारी, नौकरी पेशा करने वालों के साथ अन्य लोगों को को भी सा़फ-सफाई के लिए जागरूक किया सके । बरसात के समय मच्छर लार्वा छोड़ें इसके पूर्व ही विभाग पानी रूकने वाले जगहों, छतों से बेकार कबाड़, टायर, गमले आदि हटाने के लिए प्रेरित कर रहा है। इन्हीं जगहों पर पानी ठहरने से लार्वा कारगर होकर मलेरिया फैलाने में मददगार साबित हो जाता हैं। इस अभियान में ग्रामीण क्षेत्रों की नालियों में जमा सिल्ट व झाड़- झंखाड़ की सफाई के लिए पंचायती राज विभाग व नगर में निकायों में अधिशाषी अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की गई है।

जिला मलेरिया अधिकारी त्रिभुवन चौधरी ने बताया कि मच्छरों को मारने के लिए सप्ताह में एक बार सफाई की आदत को रूटीन में ले आएं तो मच्छर जनित रोगों से मुक्ति मिल जाएगी। सीएचसी- पीएचसी पर पोस्टर व पंप प्लेट हैंडबिल भेज कर आम नागरिकों में जागरूकता फैलाने का निर्देश है। उन्होंने बताया कि जिले में मलेरिया से पीड़ित होने पर किसी भी अस्पताल में निश्शुल्क उपचार ले सकते हैं।

जिला अस्पताल में मलेरिया विभाग ने फीवर हेल्थ डेस्क बनाया है। यहां तैनात दो कर्मी अस्पताल पहुंचने वाले बुखार पीड़ितों का सहयोग कर उपचार कराने में मदद करेंगे। मलेरिया के लक्षण- ज्यादा देर तक बुखार रहना, ठंड लगना, उल्टी आना, दस्त होना, तेज पसीना आना, सिर दर्द व शरीर में जलन, कमजोरी महसूस होना है।

घर के आसपास सफाई रखें, जल जमाव न होने दें, मच्छरदानी का प्रयोग करें, मॉसकीटो क्रीम जरूर लगाएं, बाहर का भोजन कम करें, पानी उबालकर पिएं, सप्ताह में कूलर का पानी हर दिन बदलते रहें।

Check Also

कानपुर ब्रेकिंग- दादा नगर में 5 फैक्टरी में लगी भीषण आग। इडिया न्यूज लाइव डाट नेट न्यूज टीम रिपोर्टर अनूप त्रिपाठी की रिपोर्ट

अनूप त्रिपाठी की रिपोर्ट कानपुर ब्रेकिंग- दादा नगर फैक्ट्री एरिया 188 बी कचरी फैक्ट्री समेत …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

India News Live