All for Joomla All for Webmasters

दीपक सोनी 
दो दिवसीय दौरे पर नेपाल गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को जनकपुर-अयोध्या बस सर्विस, नेपाल-भारत मैत्री बस सेवा को हरी झंडी दिखाई। वह बस शनिवार दोपहर को अयोध्या पहुंची। जहां उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनकपुरी से चली इस बस से आए यात्रियों का स्वागत किया। इस मौके पर योगी ने कहा कि भारत-नेपाल सांस्कृतिक सबन्धों को पीएम मोदी ने नया आयाम दिया है। अयोध्या जनकपुर सीधी बस सेवा के लिए पहले नेपाल और भारत के पीएम का आभार व्यक्त करता हूं।
योगी ने कहा कि दोनों देश हज़ारों सालों सांस्कृतिक व सामाजिक सबन्धों से जुड़े हैं। ये एक ऐतिहासिक क्षण है।लोग बदले लेकिन हमारे सम्बन्ध आज भी अटूट हैं। महराज दसरथ और जनक  का अटूट सम्बन्ध था।ये सांस्कृतिक सम्बन्ध राजनीतिक सम्बन्धों से बड़े हो गए हैं। अयोध्या के जनकपुर और काठमांडू का काशी के साथ अटूट सम्बन्ध है। नेपाल से आए अतिथियों को अयोध्या के संस्कृति से रूबरू होने का मौका मिलेगा। दीपोत्सव के दौरान अयोध्या के विकास के लिए 133 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास हुआ था। इससे पहले शुक्रवार को पीएम मोदी ने जनकपुरधाम में जनकपुर-अयोध्या एसी बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। यह बस अब जनकपुर से अयोध्या के बीच गोरखपुर के रास्ते रोजाना चलेगी। उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि यह बस मीठा मोड बार्डर प्वाइंट से भारत के बिहार प्रांत में प्रवेश करेगी। बिहार में सीतामढ़ी के रास्ते सलेतग़ बॉर्डर से उत्तर प्रदेश की सीमा में प्रवेश करेगी और वहां से तमकुही राज, गोरखपुर और बस्ती होते हुए अयोध्या पहुंचेगी।

RAJESH SHARMA