All for Joomla All for Webmasters

अरुण कुमार झा 

 डिवाइडर का अवलोकन किया गया। इस दौरान उनके द्वारा  दिया गया कि रोड डिवाइडर का गुणवत्तापूर्ण ढंग से निर्माण किया जाय एवं डिवाइडर के बीचों-बीच फूल लगाकर सड़क का सौंदर्यीकरण किया जाय। इस संबंध में उनके द्वारा संबंधित विभाग को निदेश दिया गया कि डिवाइडर के बीच में मिट्टी का भराव कर उसमें सजावटी फूल-पत्ती लगाया जाए; ताकि सड़कों के  सौंदर्यीकरण के साथ-साथ पर्यावरण संतुलन में भी मदद हो सके।

साथ हीं निदेश दिया गया कि डिवाइडर के दीवारों पर रंग-बिरंगी कलाकृतियां एवं स्वच्छ भारत का लोगो (स्वहव) आदि का दीवार लेखन कराया जाए।

 इस दौरान सड़कों के दोनों ओर लगाये जा रहे पेभर्स ब्लाॅक का अवलोकन करते हुए संबंधित विभाग को निदेश दिया गया कि सड़क के दोनों ओर दीवार से 2.5 फीट जगह छोड़कर पेभर्स ब्लाॅक लगाया जाय; ताकि उन जगहों  का प्रयोग वृक्षारोपण, फूल-पत्ती, घास आदि लगाने के लिए किया जा सके। साथ हीं उन्होंने कहा कि विभिन्न जगहों पर दीवार लेखन का कार्य भी कराया जाय। उन्होंने आगे कहा कि सड़क के बीचों-बीच फूल-पत्ती एवं सड़कों के किनारे वृक्ष लगाये जाने से यात्रियों का सफर आनन्दायक तो होता हीं है। साथ हीं इससे  वाहनों से होने वाले प्रदूषण को भी कम करने में मदद मिलती हैजिससे किसी भी तरह का दुर्घटना होने से बचेगा जनता यहाँ तो परिवहन विभाग मैं सिर्फ परिवहन पदाधिकारी को सिर्फ मोबाइल चेकिंग जिसमें रुपये का अँधाधुन खेल होता है कोई प्रशासन नाम का चीज हि नहीं है जब भी परिवहन कार्यलय जाईये पूछिए Dto साहब कहाँ है तो स्टाप कहेगे सर अररिया गये हैं लेकिन मुद्रा बंटवारा वक्त चले आते है कितना भी एक्सीडेंट हो परिवहन विभाग को कोई गम नहीं ॥

RAJESH SHARMA