Breaking News

मौसम परिवर्तन के कारण पीएचसी में डायरिया व पेट दर्द के मरीजों की संख्या बढ़ रही

रजनीकांत ठाकुर की एक रिपोर्ट।

उदाकिशुनगंज (मधेपुरा) ।

मौसम में परिवर्तन होने के कारण इन दिनों उदाकिशुनगंज पीएचसी में डायरिया व पेट दर्द के मरीजों की संख्या बढ़ गया है।
पीएचसी में ग्रामीण क्षेत्र के मरीजों की संख्या अधिक रहता है। डॉक्टरों ने इसका कारण दूषित खान-पान बताया। अस्पताल में डायरिया के मरीज बढ़ने से वार्डो में मरीजों के लिए बेड कम पड़ रहे हैं। एक बेड पर 2-2 मरीजों को एडजेस्ट करना पड़ रहा है। ग्रामीण क्षेत्र से सबसे अधिक पेटदर्द व उल्टी-दस्त की शिकायतें आ रही हैं। डॉक्टर ने इलाज के उपरांत बढ़ते तापमान को देखते हुए लोगों को खान-पान पर विशेष ध्यान देने का सुझाव दे रहे हैं। डायरिया और पेट दर्द से पीड़ित महिलाओं की संख्या प्रतिदिन बढ़ती जा रही है।

महिला मरीजों की संख्या बढ़ने से डॉक्टरों की चिंताएं बढ़ी हुई हैं। दूसरी तरफ पुरुष मरीजों के साथ साथ उल्टी-दस्त से पीड़ित बच्चे भी पहुंच रहे हैं। डॉक्टरों के अनुसार बढ़ते गर्मी के कारण बच्चों में यह शिकायत सबसे अधिक रहती है।इलाज कराने आई मधुबन के लक्ष्मी देवी ,उदाकिशुनगंज के नोनिया देवी, हरेली से उषा देवी के परिवार वालों ने बताया कि अस्पताल में बेड की कमी के कारण एक बेड पर रख कर दो-दो मरीज का इलाज किया जाता है। छोटा बेड रहने के कारण काफी परेशानी होती है।

इस संबंध में चिकित्सा प्रभारी डॉक्टर डी के सिंहा ने बताया कि मौसम परिवर्तन होते रहने एवं तापमान बढ़ने और बाजार में दूषित खाद्य पदार्थों का सेवन करने से लोगों में इंफेक्शन के कारण डायरिया व पेट दर्द की अधिक शिकायतें आ रही हैं।

पीएचसी में मरीजों का उपचार करने के साथ साथ मरीजों का पूरा ध्यान रखा जाता है और साथ ही उन्हें बचाव के लिए जरूरी उपाय भी बता दिया जा रहा है, ताकि लोग इस बदलते मौसम में अपने आपको सुरक्षित रख सके।

Check Also

देवरिया:- नदी में नाव पलटने से एक लड़की की मौत – इडिया न्यूज लाइव डाट नेट न्यूज टीम रिपोर्टर के अनुसार

इडिया न्यूज लाइव डाट नेट न्यूज देवरिया:- रामपुर कारखाना थाना क्षेत्र के ग्राम हरपुर बिंदवलिया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

India News Live