All for Joomla All for Webmasters

अंकित कुमार जायसवाल की एक रिपोर्ट ।

सोनवरसा(सहरसा)- जिले के सोनबरसा प्रखंड अंतर्गत रघुनाथपुर पंचायत के नवसृजित विद्यालय जमुनिया में सोमवार को एक भी शिक्षक उपस्थित नहीं थे सिवाय एक टोला स्वयं सेवक के । उनसे जब इस बारे में पूछताछ की गई तो उनका कहना था कि हमें कुछ नहीं पता । जबकि विद्यालय के प्रधानाध्यापिका के तौर पर कार्यरत प्रियंका सिन्हा से जब उनसे फोन पर संपर्क किया गया तो  उन्होंने बताया की किसी जरुरी काम आ गया जिस कारण मैं विद्यालय नहीं पहुंची । इंडिया न्यूज लाइव. नेट के पत्रकार के द्वारा  पूछने पर यह भी बताया की प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को बताने को याद नहीं रहा इसमें कौन सी नई बात है ।

उसके बाद पत्रकार ने प्रखंड के शिक्षा पदाधिकारी से इस बाबत जानकारी लेना चाहा तो उन्होंने बताया कि इस मामले में उन्हें कुछ भी पता नहीं है हमें ना ही स्कूल के किसी शिक्षक के द्वारा कोई सूचना मिली है और इसलिए हम कुछ नहीं बता सकते हैं । उन्होंने कहा कि हम  प्रधानाध्यापिका  से संपर्क करने की कोशिश करते हैं । इस मामले में जब बच्चों से पूछा गया तो बच्चे का जवाब आया कि सर हम लोग 7:00 बजे आते हैं और शिक्षक लोग 8:00 बजे 9:00 बजे तक आते हैं । मिली जानकारी के अनुसार पता चला है कि यहां पर हर दिन यही हाल है  कोई शिक्षक आते हैं और कोई नहीं आते हैं। जो पहले आते हैं वह अपना उपस्थिति बना लेते हैं और बाकी की जगह को खाली छोड़ देते हैं।

उसके बाद जब विद्यालय बंद होने लगती है तभी बाकी बचे शिक्षकों का भी  उपस्थिति बना दिया जाता है। इस पर नहीं विभागीय पदाधिकारी और ना ही विभाग की तरफ से कोई ठोस कदम उठाया जा रहा है , जिस कारण बच्चों के शिक्षा स्तर पर काफी गहरा असर पड़ रहा है।

EDITOR BIHAR