All for Joomla All for Webmasters

औरंगाबाद:-राजद के किशनगंज जिलाध्यक्ष इंतखाब आलम उर्फ बबलू के सड़क हादसे में निधन से राजद कार्यकर्ताओं में शोक की लहर

May 14, 2018

गणेश कुमार की एक रिपोर्ट ।

औरंगाबाद:-राजद के किशनगंज जिला अध्यक्ष इंतखाब आलम उर्फ बबलू के सड़क हादसे में निधन से पार्टी में शोक की लहर है। फारबिसगंज के पास सड़क दुर्घटना में बबलू सहित 4 कार्यकर्ताओं की मौके पर ही मौत हो गई थी ।बताया जाता है कि इस हादसे में बबलू के अलावा बिहार सरकार के पूर्व मंत्री इस्लामुद्दीन बागी के पुत्र  राजद के प्रदेश महासचिव इकरामुद्दीन बागी ,दिघलबैंक प्रखंड के युवा राजद प्रखंड अध्यक्ष असरार-उल-हक़ और पप्पू साहिल चालकशामिल थे।

इस अवसर पर युवा राजद के प्रखंड अध्यक्ष बसंत बादल, उपाध्यक्ष सुभाष यादव, राहुल पासवान ,प्रीतम यादव ,राहुल कुशवाहा ,न्यूटन पासवान ,विवेक कुमार ,अमित कुशवाहा ,नीरज शर्मा  सहित दर्जनों कार्यकर्ता ने निधन पर गहरा शोक जताया है।

Read More

लेखपालो के बाद अब प्रधानों का पलटवार लेखपालो के खिलाफ कार्रवाई के लिए धरने पर बैठे प्रधान -ब्यूरो रिपोर्ट :चौ.प्रमोद यादव 

May 14, 2018

चौ.प्रमोद यादव 

बदायूँ।सहसवान तहसील में विगत दिनों राशन कार्ड को लेकर फतनपुर टप्पा निवासी ग्राम प्रधानपति व उनके साथियों ने लेखपाल सुमित सिंह पर जानलेवा हमला व तहसील परिसर में पत्थरवाजी की थी जिसको लेकर पुलिस ने दोनों तरफ से अभियोग पंजीकृत किये थे और जाँच के बाद कार्रवाई करने की बात की थी लेकिन लेखपाल ओर तहसील कर्मचारी कोतवाली पुलिस की कार्येशेली से संतुष्ट नही हुए और अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठ गए और पुलिस के खिलाफ गलत कार्रवाई करने का प्रदर्शन अभी थमा नही की अब लेखपाल संध ने आज अपनी मुहिम शुरू कर दी और ब्लॉक परिसर में आज सैकड़ो ग्राम प्रधानों ने लेखपालो के ख़िलाफ़ धरना दिया और उनका आरोप है कि लेखपाल सुमित सिंह और उसके साथियो द्वारा मुझ पर व मेरे साथियो के साथ मारपीट व जातिसूचक शब्दो का प्रयोग किया गया और उसके बाद पुलिस ने मुकदमा तो दर्ज कर लिया लेकिन आरोपी लेखपाल व उसके साथियों के विरुद्ध पुलिस ने अभी तक कोई कार्रवाई नही की है अगर पुलिस द्वारा लेखपाल सुमित सिंह व अन्य उसके साथियों को जेल नही भेजा गया तो हम सभी ग्राम प्रधान उग्र होकर सड़क जाम ताला वंदी करने को मजबूर होंगें। इस दौरान मोहम्मद नज़र ज़िला प्रभारी राष्ट्रीय पंचायती राज शानू चौधरी लताफत हुसैन प्रताप सिंह जुगनू हसरत के साथ सेकड़ो प्रधान धरना प्रदर्शन में रहे अंत मे ज़िला अध्यक्ष धर्मेन्द्र प्रधान ने इस लड़ाई को निरंतर जारी रखने की अपील के साथ लेखपाल के ख़िलाफ़ कार्रवाई की मांग की।

Read More

सब्जी लदी डीसीएम खाई में पलटी आधा दर्जन घायल सामने से आ रहे ट्रैक्टर ट्राली को बचाने से हुआ हादसा– ब्यूरो रिपोर्ट:चौ.प्रमोद यादव 

May 14, 2018

चौ.प्रमोद यादव 

बदायूं :अलापुर। शहर की मंडी समिति से व्यापारियों की सब्जी लादकर आ रही डीसीएम ट्रैक्टर ट्रॉली बचाने के चक्कर मे सड़क किनारे खाई में पलट गई। जिसके चकते डीसीएम सबार आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। सूचना पर पहुची पुलिस ने घायलो को जिला अस्पताल भिजवाया। 

बताते चले नगर निबासी इमरान डीसीएम चालक है। वह रोजाना शहर की मंडी समिति से सब्जी बिक्रेताओं की सब्जी भाड़े पर लाने का काम करते हैं। बताया कि सोमवार की वह सब्जी लादकर बापस आ रहे थे कि अलापुर क्षेत्र के कंचनपुर गांव के पास लगे भट्टे के पास पहुचे टी सामने से एक ट्रैक्टर ट्रॉली चालक तेजी और लापरबाही से आ रहा था। इसी को बचाने के चक्कर में डीसीएम खाई में पलट गई। जसके चकते डीसीएम सबार सुदेश और नन्दराम निबासी संजरपुर, शिवम, आकाश, आमिर, आशिम, शरीफ अहमद, शाहिल और डीसीएम चालक इमरान घायल हो गए। सूचना पर पहुँची पुलिस ने घायलो को उपचार के लिए जिला अस्पताल भिजवाया। जहाँ पर घायलो का इलाज चल रहा है।

Read More

चंदन बना सिरदर्द,पुलिस के लिए बना है चुनौति-गोरखपुर से विनय कुमार मिश्र

May 14, 2018

विनय कुमार मिश्र

गोरखपुर ब्यूरों । एक तरफ योगी सरकार यह दावा कर रही है कि अपराधी अपनी जमानतें रद करवाकर जेल में ही रहना चाहते हैं तो दूसरी ओर रंगदारी के लिए कुख्यात चंदन सिंह जेल से भागने की कोशिश कर पुलिस की इकबाल को चुनौती देने के साथ सरकार के दावे पर सवाल खड़े कर रहा।

बंदायूं जेल में अपने एक अन्य साथी के साथ जेल से भागने की कोशिश कर चुका चंदन गोरखपुर और आसपास क्षेत्रों में दहशत का पर्याय है। चंदन जेल के अंदर रहे या बाहर हमेशा पुलिस के लिए मुसीबत साबित रहा है। कई बार जेल और पुलिस के सामने से फरार हो चुका चंदन अपने आपराधिक कारनामों के लिए हमेशा ही सुर्खियां बटोरता रहा।

चलती ट्रेन से कूदकर फरार हो गया था चंदन

चिलुआताल थानाक्षेत्र के कुसहरा गांव का रहने वाला चंदन सिंह गांव में पोल गाड़ने के विवाद में हुई हत्या के एक मामले में आजीवन कारावास की सजा पा चुका है। हत्या, रंगदारी और लूटपाट आदि के 40 से अधिक मामले विभिन्न जिलों में दर्ज है। आजमगढ़ में हुए एक लूट के मामले में वांछित चंदन को कुछ साल पहले भी पुलिस ने गिरफ्तार कर देवरिया जेल भेज दिया था। 12 अगस्त 2013 को देवरिया जेल से चंदन को दूसरे जिले में न्यायालय में पेशी पर ले जाया गया था। पुलिसकर्मी उसे न्यायालय में पेश कराने के बाद ट्रेन से लेकर लौट रहे थे। देवरिया के बैतालपुर स्टेशन के पास वह चलती ट्रेन से हथकड़ी पहने कूदकर फरार हो गया। इसके बाद वह लखनउ में अपना ठिकाना बना लिया था। वहीं के एक होटल से गिरोह संचालित करता था। रंगदारी और लूटपाट धड़ल्ले से करने लगा। लेकिन रंगदारी के एक मामले में 18 जुलाई 2014 को बाराबंकी पुलिस के हत्थे चढ़ गया। तब से जेल में रहा। बताया जाता है कि जेल में ही रहकर वह अपराध की दुनिया को संचालित कर रहा था। पुलिस सूत्रों की मानें तो चंदन जहां भी रहा अपना गैंग खड़ा कर लिया। यही वजह है कि लगातार उसके गिरोह के सदस्यों के पकड़े जाने के बाद भी वह जब भी जो चाहा करता रहा।दो साल तक जेल में रहने के बाद मई 2016 में जेल में चंदन की तबीयत बिगड़ गई। उसे आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। 31 मई 2016 को पुलिस को चकमा देकर चंदन फरार हो गया। फरारी के दौरान चंदन की गतिविधियां बढ़ती चली गई। उसने फिरौती/रंगदारी के धंधे को और विस्तार देना शुरू कर दिया। गिरोह खड़े करने में माहिर चंदन ने नया गिरोह भी बना लिया। इस बीच उस पर 50 हजार रुपये का इनाम भी घोषित हो गया। इधर, चंदन को पकड़ने के लिए एसटीएफ ने जाल बिछाया। एसटीएफ ने 24 दिसम्बर 2016 को उसे गुजरात के अहमदाबाद से गिरफ्तार किया।

खौफ इतना कि इस जेल से उस जेल होता रहा ट्रांसफर

बारबार पुलिस अभिरक्षा से फरार होने और जेल में रहते हुए भी अपने रंगदारी के धन्धे को चलाने में सफल होने की वजह से चन्दन हमेशा ही पुलिस के लिए सिरदर्द बना रहा। आलम यह कि चंदन जेल में रहा हो या जेल के बाहर न तो कभी उसका खौफ कम हुआ न ही उसके रंगदारी मांगने के मामलों में कमी आई। पुलिस लगातार उसपे शिकंजा कसती गई लेकिन वह नित नए काट खोजता रहा। चंदन गिरोह को माफिया की सूची में डाला गया। एक-एक कर एक दर्जन से अधिक सदस्यों को गिरफ्तार किया लेकिन चंदन को रोकने में नाकाम रही। चंदन दो साल में बाराबंकी, लखनउ, बदायूं सहित कई जेलों में ट्रांसफर हो चुका है लेकिन लाख बंदिशों के बावजूद जेल से रंगदारी मांगने का सिलसिला जारी रहा।

पेशी पर आने पर अधिवक्ता की मोबाइल से मांगा करता था रंगदारी

पुलिस जितना चैकसी रखती चंदन उतना ही चालाकी दिखाता। जब जेल में उस पर शिकंजा कसा जाने लगा तो पेशी के दौरान अपने अधिवक्ता की मोबाइल का प्रयोग कर रंगदारी मांगने लगा। संतकबीनगर के रहने वाले अधिवक्ता पर यह भी आरोप है कि चंदन द्वारा मांगी गई रंगदारी की रकम को वह ठिकाने भी लगाता था।

पुलिस में भी हैं चंदन के मुखबीर

चंदन नाम का खौफ यूं ही हर ओर नहीं है। पुलिस रिपोर्ट्स के अनुसार चंदन ने पुलिस विभाग में भी अपने मुखबीर पाल रखे हैं। आरोप यह है कि गोरखपुर, बस्ती मंडल के जिलों सहित बनारस, आजमगढ़ आदि मंडलों में ढेर सारे वर्दीधारी ऐसे हैं जो चंदन के लिए ‘साफ्ट कार्नर’ रखते हैं। सूत्रों की मानें तो इस एवज में उनको चंदन कुछ रसूम अदा किया करता था। गोरखपुर के तत्कालीन एसएसपी आकाश कुलहरि ने इस बाबत एक गोपनीय रिपोर्ट भी शासन को भेजी थी। उन्होंने उस समय कुछ पुलिसवालों पर कार्रवाई भी की थी। विभागीय जांच भी बैठाई थी। हालांकि, उनके ट्रांसफर होने के बाद सबकुछ रफादफा हो गया।

गोलियों से छलनी कर दी थी बिहार के बीजेपी नेता की गाड़ी

माफिया चंदन सिंह पूर्वांचल का तेजी से उभरा अपराधी है। वह अपने दुस्साहसिक वारदातों की वजह से हमेशा से सुर्खियों में रहा। चलती ट्रेन से पुलिस को चकमा देकर फरार होने के बाद फरारी के दौरान चंदन ंिसह नेपाल, बिहार, गुजरात, लखनउ आदि जगहों को अपना ठिकाना बनाया। इसी दौरान उसे किसी शरणदाता ने बिहार के बीजेपी नेता कृश्णा शाही की हत्या की सुपारी दी। चंदन ने पूरी प्लानिंग के साथ शाही पर हमला किया। बताया जाता है कि चंदन ने अंधाधुंध करीब सौ राउंड गोलियां बरसाई। गाड़ी तो छलनी हो गई लेकिन शाही बच गए। इस दुस्साहस के बाद भी चंदन फरार हो गया। लेकिन पुलिस काफी सक्रिय हो गई और वह बाराबंकी से गिरफ्तार हो गया।

Read More

सादुल्ला नगर : इलाहाबाद बैंक की  शाखा से  चोर मोटरसाइकिल लेकर चंपत -SUSHIL SRIVASTVA सुशील श्रीवास्तव की एक रिर्पोट , सादुल्ला नगर

May 14, 2018

सुशील श्रीवास्तव की रिपोर्ट

सादुल्ला नगर बलरामपुर रुपया निकालने गए इलाहाबाद बैंक की  शाखा से  चोर मोटरसाइकिल लेकर चंपत हो गए ग्राम कमरपुर निवासी राकेश कुमार गुप्ता पुत्र मल्लहू  गुप्ता दिन मे करीब साढे दिन बजे आज  रुपया निकालने गए थे दास मिनट बाद जब वो बाहर निकले तो आपनी  मोटरसाइकिल ना देखकर हक्का-बक्का रह  गये राकेश ने घटना  की सूचना  सादुल्ला नगर थाने पर  दिया और बताया की मोटरसाकिल टी बी एस ईस्पोट  नंबर यू पी ५१ / यू  ८१८९ को चोर चुरा लेगए है। 

इस समय में ई लाके में चोर उचके काफी  सक्रिये  है  । बेखोफ हो कर घटना को अंजाम देते है  और  चम्पत हो जाते हैं । थाना सादुल्ला नगर के हलका दरोगा   ओम प्रकाश भारती ने कहा कि जाच पड़ताल की जा रही है जल्द की चोरो को गिरफ्तार कर दिया   जाये गा ।

Read More

‘दिल दहला देने वाली घटना’ अज्ञात महिला की बेरहमी से सर काट कर हत्या -DEVENDRA SINGH GORAKHPUR देवेन्द्र सिंह की रिपोर्ट

May 14, 2018

 

देवेन्द्र सिंह की रिपोर्ट

गोरखपुर-थाना कैम्पियरगंज के पुलिस चौकी मछली गॉव क्षेत्रार्न्तगत ग्राम ब्रम्हपुर टोला, बड़हरा पुल के पास जंगल में ‘दिल दहला देने वाली घटना’ अज्ञात महिला की बेरहमी से सर काट कर हत्या को कारित करने वाला एक अभियुक्त गिरफ्तार, हत्या में प्रयुक्त आला कत्ल बरामद। 

 थाना कैम्पियरगंज क्षेत्रार्न्तगत पुलिस चौकी मछलीगांव में दिनांक 10.05.2018 को ग्राम ब्रम्हपुर टोला, बड़हरा पुल के पास जंगल में एक अज्ञात महिला की सर कटी लाष बारामद हुई जिसके सम्बन्ध में चौकीदार श्री रादयाल की तहरीर पर मु0अ0सं0214/18 धारा 302पंजीकृत हुआ था। इस सनसनीखेज घटना के वजह से आस पास के गांवो मे भय का माहौल व्याप्त हो गया था।  उक्त घटना को को गम्भीरता से लेते हुये श्री षलभ माथुर (आई0पी0एस0) वरिश्ठ पुलिस अधीक्षक, जनपद गोरखपुर के द्वारा पुलिस अधीक्षक उत्तरी/पुलिस अधीक्षक अपराध, जनपद गोरखपुर के पर्यवेक्षण में क्षेत्राधिकारी गोरखनाथ/क्राईम तथा क्षेत्राधिकारी कैम्यिरगंज के नेतृत्व में स्वाट टीम तथा थाना प्रभारी कैम्पियरगंज को घटना में षामिल अभियुक्त की गिरफ्तारी एवं बरामदगी हेतु लगाया गया था। जिसके सम्बन्ध में लगातार सर्विलांष टीम एवं मुखबीरों को सक्रिय किया गया था । उसी क्रम में प्रभारी कैम्पियरगंज व स्वॉट टीम के प्रभारी सत्यप्रकाष सिहं मय टीम के साथ आज दिनांक 14.05.2018 को समय 16.00 बजे के करीब चौमुखा पुलिया के पास कस्बा कै0गंज जनपद गोरखपुर उक्त घटना के अनावरण के सम्बन्ध में सर्विलांष से प्राप्त इेलेक्ट्रानिक साक्ष्यों के सम्बन्ध में आपस में वार्ता कर रहे थे कि तभी जरिये मुखबिर सूचना प्राप्त हुई कि थाना कैम्पियरगंज क्षेत्रार्न्तगत पुलिस चौकी मछलीगांव में दिनांक 10.05.2018 को ग्राम ब्रम्हपुर टोला, बड़हरा पुल के पास जंगल में एक अज्ञात महिला की सर कटी हत्या में षामिल अभियुक्त चौमुुखा पुलिया के पास खड़ा है तथा की भागने की फिराक में है इस सूचना पर विष्वास कर घेराबन्दी की गयी तो मुखबिर द्वारा एक व्यक्ति को जो गाड़ी में बैठने जा रहा था, को इषारा किया गया जिसे घेरकर  पकड़ लिया गया। पकड़े गये अभियुक्त के पास से एक अदद चाकू व एक अदद लेडिस पर्स बरामद हुआ। गिरफतारी व बरामदगी का विवरण निम्नवत् है। 

गिरफ्तार अभियुक्त का विवरण

1-मुबारक अली पुत्र जोखन अली नि0 बड़हरा थाना पनियरा जनपद महाराजगंज। 

*मृतका का नाम व पताः-*

श्रीमती आरती पत्नी विक्रम नि0 गेहुअना थाना पनियरा जनपद महाराजगंज।

*गिरफ्तारी का स्थान दिनांक*

  चौमुखा पुलिया के पास थानाक्षेत्र कैम्पियरगंज-दिनांक 14.05.2018

*अभियुक्त मुबारक अली के पास से बरामदगी का विवरण*

1-01 अदद  इस्तेमाल किया हुआ लेडिस पर्स । (मृतका का)

2-01 अदद चाकू आला कत्ल

*जिन मुकदमों का अनावरण हुआ का विवरणः-*

1-मु0अ0सं0 214/18 धारा 302 भादवि थाना कैम्पियरगंज जनपद गोरखपुर

*गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम का नाम*

1- धर्मेन्द्र सिहं प्र0नि0 थाना कैम्पियरगंज जनपद गोरखपुर मय, हमराह।

3- सत्यप्रकाष सिहं प्रभारी स्वॉट जनपद गोरखपुर, मय टीम।

5- का0 मनोज कुमार चौरसिया, सर्विलांस सेल जनपद गोरखपुर।

6- का0 अरूण कुमार यादव, सर्विलांस सेल जनपद गोरखपुर।

Read More

यू0पी-100 ने बरेली जोन मे किया नाम रोशन । जोन में सबसे कम रिस्पांस टाइम-ब्यूरो रिपोर्ट:चौ.प्रमोद यादव 

May 14, 2018

चौ.प्रमोद यादव 

बदायूं :उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही डायल-100 सेवा में जनपद बदायूं द्वारा सूचना मिलने पर सबसे कम समय में पहुंचकर त्वरित रिस्पांस 12 मिनट 8 सेकंड का समय लगा मौके पर पहुंचकर लोगों को सहायता प्रदान कर बरेली जोन के 9 जनपदों में पहला स्थान प्राप्त किया है । यह सेवा जनमानस को जल्द से जल्द सहायता प्रदान करने के संबंध में चलाई जा रही है जनपद स्तर पर यह सेवा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय के निर्देशन में कार्य कर रही है

पूर्व में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बदायूं अशोक कुमार द्वारा समस्त थाना प्रभारियों को थाना क्षेत्र की यू0पी0-100 की गाड़ियों को दिन व रात में चैकिंग हेतु निर्देशित किया गया था । जिसके परिणाम स्वरूप यू0पी0-100 के अधिकारी व कर्मचारी सतर्क रहते थे व गोष्ठी में भी कड़े आदेश दिए गए थे कि सूचना प्राप्त होने पर घटनास्थल पर तुरंत पहुंचे । घटना स्थल पर पहुंचने पर किसी प्रकार की देरी ना हो, घटना स्थल पर पहुंचने के बाद आवश्यकता अनुसार कार्रवाई करें तथा पीडित पक्ष की बात विनम्रता पूर्वक सुने । यदि घटना बड़ी है तो संबंधित थाने अथवा उच्च अधिकारियों को तुरन्त अवगत कराएं । महोदय के आदेश के अनुपालन में जनपद बदायूं में पुलिस द्वारा यह कामयाबी हासिल कर दिखाई है । इस कामयाबी का श्रेय वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बदायूं को जाता है । महोदय द्वारा समय-समय पर छोटी बड़ी सभी बातों को ध्यान में रखते हुए गोष्ठी की जाती है । गोष्ठी में बताए गए आदेशों- निर्देशों का कड़ाई से पालन किए जाने के संबंध में भी बताया जाता है ।बदायूँ यू0पी0-100 की इस उपलब्धि पर महोदय द्वारा जनपद बदायूँ यू0पी0-100 के नोडल अधिकारी श्रीमान पुलिस अधीक्षक नगर जितेन्द्र कुमार श्रीवास्तव की प्रसंशा की गयी ।

Read More

कौन चलवा रहा है अंजता होटल के नीचे से डग्गामार बसे-ब्यूरो रिपोर्ट :चौ.प्रमोद यादव 

May 14, 2018

चौ.प्रमोद यादव 

बदायूं। जला मुख्यालय पर रोडवेज के गेट के सामने स्थित अंजता होटल के नीचे से सुबह से लेकर शाम तक सैंकड़ों बसे बरेली और कासगंज मार्ग पर अवैध रूप से चल रहीं हैं। नागरिकों की समझ में एक बात नहीं आ रही है कि बदायूं में ऐसा कौन वाहन माफिया है जिसके सामने प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्य नाथ योगी का वाहन माफियाओं के विरूद्ध कार्रवाई करने का आदेश रद्दी की टोकरी में चला गया है और जनपद के पांच . पांच भाजपा विधायकों के होने के बावजूद वाहन माफिया के विरूद्ध कार्रवाई नहीं हो पा रही है। वाहन माफिया रोडवेज को दीवालिया बनाने में लगा हुआ है और इसके बावजूद सत्तााारी दल के विधायकए परिवहन निगमए परिवहन विभाग और पुलिस सारे चुप्पी साध कर बैठे हुए हैं।

Read More