All for Joomla All for Webmasters

बांका:- आलेख:-रमजान का चांद सोमवार को दीदार होने पर पहली  तारावी ओर मंगलवार को पहला रोजा

May 12, 2018

दिलावर अंसारी की  एक रिपोर्ट।

कटोरिया(बांका)– रमजान शरीफ के चांद14 मई सोमवार को दीदार होने की संभावना है चांद दीदार होने पर सोमवार को मस्जिदों में पहली तराबी और  मंगलवार को पहला रोजा होगा। रमजान की इबादत का मुस्लिमों में खास मुकाम है। मुस्लिम पर्व रमजान का पहला रोजा चांद दीदार होने पर  मंगलवार से एक माह के रोजे और इबादतों का दौर शुरु होगा। इस्लाम के पांच अनिवार्य नियमों में से एक रोजा मुस्लिम के लिए (फर्ज)अनिवार्य है। मौसम कैसा भी हो इस माह में रोजा रखना, नमाज अदा करना और पवित्र कुरान को तराबीह की नमाज में सुनना मुस्लिमों के लिए अहम है।  मुस्लिम समाज की मान्यता है कि इस माह नेकी का कई गुना सवाब मिलता है। इबादत से राजी होकर खुदा बेपनाह रहमतें बरसाता है। सोमवार को चांद होने पर  रमजान की विशेष नवाज अदा की जाएगी।

गर्मी में कड़े इम्तिहान वाला होगा रमजान माह—

अल्लाह की इबादत का महीना रमजान जल्द शुरू हो रहा है। इस बार रमजान महीना अकीदतमंदों के लिए कड़े इम्तिहान का रहेगा। वजह, 34 साल बाद ऐसा मौका आया है कि जब रमजान का कोई भी दिन 15 घंटे से कम नहीं होगा। रोजा रखने वालों को रोज 15 घंटे रोजा रखना होगा। पहला रोजा ही 15 घंटे 12 मिनट का होगा। यह बढ़ते-बढ़ते 21 व 22 जून को 15 घंटे 36 मिनट का हो जाएगा। सन् 1983 में रमजान जून में आया था, तब भी ऐसी ही कड़ी परीक्षा से गुजरना पड़ा था। इफ्तार का टाइम शाम 7.22 बजे होगा : रमजान माह जल्द शुरू हो रहा है। ज्येष्ठ व आषाढ़ के बीच रमजान माह होने से समय बढऩे की बात कही जा रही है। जानकारी के मुताबिक पहले रोजे की सेहरी सुबह करीब 4.10 बजे समाप्त होगी और इफ्तार शाम 7.22 बजे होगा। यानी यह रोजा 15 घंटे 12 मिनट का होगा। रमजान में समाजजन नियमित नमाज अदा कर रोजे रखते हैं। महीने के इस्लामी कलैण्डर का हर महीना हो जाता है एक या दो दिन पीछे, तीन साल में इस्लामी कलैण्डर एक माह पीछे हो जाता है और 36 साल में एक साल का फर्क आ जाता है । मुसलमानों के लिए पवित्र रमजान का महीना 14 मई सोमवार को शुरू होने की संभावना है। हालांकि, रमजान में यह तारीख 36 सालों बाद आई है। अब यह तारीख दोबारा 36 सालों बाद आएगी। पिछले साल रमजान का महीना 30 जून से 29 जुलाई तक चला था। इस दौरान बारिश के आने के बाद लोगों को रोजा रखने में काफी राहत मिली थी। सहरी रखने का वक्त सुबह 4 बजकर 9 मिनट तक रहेगा, जबकि इफ्तार का वक्त शाम 7 बजकर 24 मिनट होगा। इस बार 14मई से शुरू हो रहे रमजान के महीने में गर्मी रोजेदारों का इम्तीहान लेगी। एक महीने तक चलने वाले रोजों के दौरान तापमान 35 से 40 डिग्री के बीच रहेगा। हालांकि, पिछली बार तापमान 25 से 30 के बीच रहा था।

इस्लामी कलैण्डर का हर महीना हो जाता है एक या दो दिन पीछे–

चांद के उदय-अस्त होने के आधार पर चलने वाले इस्लामी कलैण्डर में आने वाला हर महीना एक-दो रोज कम होते जाते हैं। साल भर में इस तरह 12-13 दिन का फर्क आ जाता है। तीन साल में इस्लामी कलैण्डर एक माह पीछे हो जाता है और 36 साल में एक साल का फर्क आ जाता है।

रोजे का समय भी घटता है—

जिस तरह कलैण्डर में हर महीने में एक या दो दिन का फर्क आता है उसी तरह रोजे का समय भी घटता जाता है। इससे पहले 36 साल पहले इस तारीख को इसी अवधि का रोजा रखा था। रोजा सुबह सूरज निकलने के डेढ़ घंटे पहले शुरू होता है और सूर्यास्त पर खोला जाता है। सूर्योदय और सूर्यास्त के बीच की इस अवधि में ही रोजा रखा जाता है।

रमजान 14से—

इस्लामी कलैण्डर चन्द्रमा पर आधारित है, जबकि रोजे सूर्योदय व सूर्यास्त के बीच रखे जाते हैं। इस बार चांद दिखने पर रमजान का पहला रोजा 15 मई को रखा जाने की संभावना है । रमज़ान को रमदान भी कहा जाता है जो इस्लामी कैलेंडर का नौवां महीना है। मुस्लिम समुदाय में इस महीने को बहुत पवित्र माना जाता है। इस महीने में सभी मुस्लिम उपवास रखते है जिन्हें रोज़ा कहा जाता है। रमज़ान के महीने में रोज़ा रखना बहुत पवित्र माना जाता है।

रमज़ान माह की विशेषताएं :–

मुस्लिम समुदाय में इस माह का खास महत्व होता है, जिसे सभी अपने अपने तरीकों से मनाते है। इस माह की मुख्य विशेषताएं कुछ इस प्रकार है।

इस पुरे माह अधिकतर मुस्लिम रोज़े (उपवास) रखते है।रमज़ान के दौरान रात में तरावीह की नमाज़ पढ़ीं जाती है।

क़ुरान तिलावत (पारायण) करना।

एतेकाफ़ बैठना, यानी गांवों और लोगों के भले और कल्याण के लिए अल्लाह से दुआ करते हुए मौन व्रत रखना।

ज़कात देना।

दान धर्म करना।

अल्लाह का शुक्र अदा करना। अल्लाह का शुक्र अदा करते हुए इस महीने के खत्म होने के बाद शव्वाल की पहली तारीख को ईद-उल-फ़ित्र मनाई जाती है। रमज़ान के पुरे महीने में पुण्य कार्य करने को प्रधानता दी जाती है। इसलिए इस माहीने को नेकियों और इबादतों यानी पुण्य और उपासना का मास माना जाता है।

क़ुरान में रमज़ान का विवरण :

मुस्लिमों के विश्वास के अनुसार इस महीने की 27 वीं रात्रि शब-ए-क़द्र को क़ुरान का अवतरण हुआ। इसलिए, इस महीने में क़ुरान पढना सबसे अधिक पुण्यकारी माना जाता है। तरावीह की नमाज़ में महीना भर क़ुरान का पठन किया जाता है। और जिन्हें क़ुरान पड़ना नहीं आता उन्हें क़ुरान सुनने का अवकाश मिल जाता है।

रमज़ान में रोज़ा का महत्व :

रमज़ान का महीना कभी 29 दिन का होता है तो कभी 30 दिन का होता है। इस पुरे महीने उपवास रखा जाता है। अरबी में उपवास को ‘सौम’ कहा जाता है, इसलिए इस महीने को माह-ए-सियाम भी कहते है। फ़ारसी में इसे रोज़ा कहा जाता है।

Read More

किशनगंज:-एसएसबी के जावानों ने आठ मवेशी को किया जप्त

May 12, 2018

विजय कुमार साह की एक रिपोर्ट ।

किशनगंज:- भारत – नेपाल सीमा पर तैनात  52 वीं बटालियन  एसएसबी मेधा बीओपी केम्प के ससस्त्र सीमा बल के जवानों ने भारत नेपाल सीमा पीलर संख्या 165/06 के निकट नाका गस्ती रात्रि के दौरान मेधा बीओपी के एसएसबी के जावानो ने आठ मवेशी को जप्त करने में सफलता हासिल कि है! प्राप्त जानकारी के अनुसार मेधा बीओपी के एसएसबी जवानो को देखते ही मवेशी तस्कर अंधेरा वह खुली सीमा का फायदा उठाकर  मवेशियों को छोड़ भागाने मे सफल रहा!जब्त मवेशियों की अनुमानित कीमत एक लाख  रूपया आंकी जा रही है,मेधा बीओपी 52 वी बटालियन के सहायक कमांडेंट राम पाल ने बताया रात्रि नाका गस्ती के  दौरान मैं जवानों द्वारा पिलर संख्या 166/06 द्वारा सर्च किया जा रहा था।इसी दौरान मवेशियों के साथ नेपाल की ओर से कुछ व्यक्ति जवानों द्वारा देखा गया। जवानों को देखते ही तस्कर मवेशी छोड़ कर खुली सीमा व अंधेरा का फायदा उठा कर भागने में सफल   रहा! जब्त मवेशी का अनुमानित कीमत एक लाख रुपए बताया जा रहा है, जब्त मवेशी को सिकटी फाटक के हवाले कर दिया गया है।

सीमा क्षेत्र में लगातार पेट्रोलिंग किया जा रहा है, और असामाजिक तत्व एवं गतिविधियों पर पैनी नजर रखी जा रही है, हर आने जाने वाले व्यक्ति का गाड़ी का जांच किया जा रहा है।

Read More

किशनगंज:-बिना सूचना ही बिजली विभाग द्वारा शिविर का किया जाता है आयोजन :- मुखिया तसनीफ अतहर

May 12, 2018

विजय कुमार साह की एक रिपोर्ट ।

किशनगंज:- टेढागाछ प्रखंड क्षेत्र के हाटगाव पंचायती स्थित पंचायत भवन मे बिजली विभाग द्वारा तीन दिवसीय शिविर का दो दिन मे ही समाप्त हो गया नया बस्ती    के रोशन जमीर अपना बिजली बिल को सुधार करने के लिए शिविर का चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन शिवीर में कोई बिजली कर्मचारी नहीं है, वही प्रखंड विकास पदाधिकारी सुरेंद्र ताती ने बताया  हम को भी बिजली विभाग द्वारा कोई सूचना नहीं दिया गया जिसके कारण प्रखंड क्षेत्र के बिजली उपभोक्ताओं का समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा है, बिजली शिविर का ग्रामीणों को जानकारी नहीं दिया गया है, सिर्फ शिविर में  टेंट और कुर्सी लगा हुआ है, ना ही कोई बिजली विभाग के कर्मी  मौजूद मिले  कई  लोग बिजली संबंधित  बिजली बिल को लेकर शिविर में  दो  दिन से इंतजार कर रहे हैं, लेकिन  बिजली विभाग के जेई अमर बहादुर अपना दबंगता के साथ  कार्य कर रहे हैं, सुशासन की सरकार में किस तरह प्रशासन का राज चलता है, यह शिविर से ही पता चलता है, क्या ऐसे शिविर से गरीब बीपीएल धारी की समस्या को दूर कैसे  हो सकता है,  यह एक चिंतनीय विषय है,  मुखिया तसनीम अतहर ने जिला प्रशासन से बिजली विभाग की  लापरवाही की जांच की मांग की है, स्थानीय मुखिया तसनीफ अतहर ने बताया कि बिना सूचना के बिजली विभाग द्वारा शिविर लगाया गया, जिससे पंचायत के लोगों में आक्रोश व्याप्त है,पंचायत के लोगों को बिजली विभाग द्वारा जानकारी नही दी गई ना ही स्थानीय मुखिया को दी गई है, श्री अतहर ने बताया कि शिविर का मुख्य उद्देश्य बिजली से संबंधित पंचायत के समस्याओं का समाधान करना बताया गया, जबकि मुखिया का कहना है, कि बिजली विभाग द्वारा हमें किसी प्रकार की कोई सूचना नहीं दी गई है, स्थानीय पंचायत के मुखिया ने खेद व्यक्त की है, और कहा कि बिजली विभाग की लापरवाही के कारण पंचायत की लोग बिजली की कई समस्या के कारण जूझ रहे हैं, और बिना बताए पंचायत के लोगों को बिजली विभाग द्वारा शिविर लगा दिया जाता है, उन्होंने कहा कि बिजली विभाग को चाहिए कि शिविर से पहले पंचायत के लोगों को जानकारी दें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को शिविर में अपनी समस्या का समाधान हो सके, और ज्यादा से ज्यादा लाभ ले सके, अंधेर नगरी चौपट राजा की तर्ज पर बिजली विभाग कार्य कर रही है। स्थानीय मुखिया ने बिजली विभाग को अपना काम के प्रति उदासीन बताया है ।

टेढागाछ के प्रभारी एसडीसी मंजूर आलम से पूछने पर उन्होंने बिजली विभाग के अधिकारी से बात कर शिविर में कितने आवेदन पड़े हैं उसकी तलब की है!

Read More

किशनगंज:-टेढागाछ थाना परिषर में आयोजित भू-विवाद निपटारे शिविर का हुआ आयोजन

May 12, 2018

विजय कुमार साह की एक रिपोर्ट ।

किशनगंज:-टेढागाछ जमीनी विवाद के त्वरित निष्पादन हेतु शनिवार को टेढागाछ थाना परिषर में प्रभारी थाना प्रभारी वेदानंद सिंह के नेतृत्व में जनता दरबार का आयोजन किया गया। जिसमें प्रखंड क्षेत्र के जनप्रतिनिधि व बुद्धिजीवी लोगों ने भाग लिया।  जनता दरबार में प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न पंचायत के जमीन समस्या का निवारण किया गया । आज शिविर में जमीन संबंधित कईममला जनता दरबार मे आया और खबर लिखे जाने तक निपटारा किया जा रहा था ! आयोजित भू विवाद निपटारे शिविर में हलका कर्मचारी अजय सिंह मौजूद थे!

इस दौरान मोके पर पहुचे दर्जनों भू स्वामियों के समस्या को सुन कर उसके समाधान हेतु प्रकिया जारी था !

Read More

किशनगंज:-टेढ़ागाछ में शिक्षकों ने किया डीपीओ का घेराव,मंगा लंबित वेतन

May 12, 2018

विजय कुमार साह की एक रिपोर्ट ।

टेढ़ागाछ(किशनगंज)-बीआरसी टेढ़ागाछ में शनिवार को नियोजित शिक्षकों ने डीपीओ वन एमडीएम  का घेराव किया।काफी देर तक बात विवाद के बाद नियोजित शिक्षकों ने डीपीओ रवि शंकर मिस्त्री की बातों से सहमत हो गए और उन्हें छोड़ दिया गया।ज्ञात हो कि टेढ़ागाछ प्रखण्ड शिक्षकों को जीओबी मद से वेतन मिलता है,जो विगत 13 माह से वेतन नहीं मिला है।जिसके कारण शिक्षकों ने डीपीओ एमडीएम का धेराव कर वेतन देने के लिए दवाब बनाने लगे तो डीपीओ वन एमडीएम ने कहा वेतन संबंधत मामले का जबाब स्थापना से मिलेगा, जो जीओबी मद से वेतन दे रहा है।आप को अगर लगता है कि मेरा घेराव करने से आप लोगों को बकाया वेतन मिल जाएगा तो करिये,लेकिन आप लोग डीएम से बात करिये अवश्य कोई समाधान निकलेगा। आप लोगों को अगर लगता है कि हमें कमरे में बंद करने से या और भी कुछ करने से आप सबों की भलाई होती है, तो  हमारे ऊपर कोई भी दबाव बनाइये हम सहन करने के लिए तैयार है।उन्होंने 13 माह से वेतन नहीं मिलने से शिक्षकों में आक्रोश   होना स्वभाविक बताया।

इधर शिक्षकों ने एमडीएम पदाधिकारी श्री मिस्त्री से जिला में वेतन मामले में बात कर वेतन दिलाने की मांग की है।

Read More

औरंगाबाद:-नीतीश सरकार में कोई भी व्यक्ति सुरक्षित नहीं है, आये दिन लूट हत्या बलत्कार हो रहा है :- पप्पु यादव

May 12, 2018

गणेश कुमार की एक रिपोर्ट ।

औरंगाबाद-  हसपुरा बाजार के कनाप रोड स्थित मगध ग्रामीण बैंक के पास शनिवार को जन अधिकार पार्टी की नुकड सभा हुई। जिसका संचालन पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता श्याम सुन्दर ने किया। जन अधिकार पार्टी के सासंद सह राष्ट्रीय  संरक्षक राजेश रंजन उर्फ पप्पु यादव ने संबोधित करते हुए कहा नीतीश सरकार में कोई भी ब्यक्ति सुरक्षित नहीं है। आये दिन लूट हत्या बलत्कार सहित अनैतिक घटनाएं खुलेआम हो रही है।इसके बाद भी बिहार की सरकार मुंह फाड-फाड कर चिल्ला रही है अपराध मुक्त की ओर बिहार चल चुका है। हसपुरा जैसे शान्ति प्रिय जगह में डकैत कह कर एक निर्दोष की पीट पीट कर जघंन्य हत्या कर दी गयी यह दुखद घटना है।उन हत्यारों को कभी भी माफ़ नहीं किया जाना चाहिए ।हत्या मामले में एसआईटी से शीघ्र जांच करे फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामला का निपटारा हो उन्होंने इसका मांग रखा।आगे कहा कि इसके लिए बिहार के शीर्ष पुलिस अॉफसर सहित मुख्यमंत्री से न्याय के लिए बात करूगां।मृतक व घायल आर्मी के जवान को अंतिम सांसो तक न्याय दिलाउगां। साथी जहाँ तक मदद करना  जरूरी पड़ेगा वहाँ तक मदद करूंगा  आर्थिक हो उन्होंने कहा जाति एवं घटना की राजनीति नहीं करें।देश मे पूर्व व वर्तमान की सता सियासत पर विस्तार चर्चा करते वोट इंसानियत पर देने को कहा।सांसद ने  प्रमुख संजय मंडल के आवास पर गये।

मौके पर जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र यादव , युवा शक्ति के प्रदेश महासचिव  संजय यादव, प्रदेश उपाध्यक्ष  सुरेंद्र यादव, जहानाबाद जिलाध्यक्ष , दाउदनगर उपाध्यक्ष प्रेम कुमार जिला प्रवक्ता उमेश यादव , रामजन्म , पंकज पासवान ,अवधेश यादव, हरेन्द्र यादव  ,मुखिया नागेन्द्र सिंह राईट ने घटना को दुखद बताते हुए  न्यायिक जांच कर हत्यारा को सजा दिलाने का बात रखा।सभा के अंत में दिवंगत आत्मा की शान्ति के लिए एक मिनट का मौन रख कर प्रार्थना  की।

Read More

औरंगाबाद:-प्रदर्शनकारियों पर गलत तरीके से दर्ज मुकदमा वापस लेने की मांग को लेकर हसपुरा की सड़कों पर पप्पु यादव

May 12, 2018

गणेश कुमार की एक रिपोर्ट ।

हसपुरा (औरंगाबाद)- आज शनिवार की दोपहर तीन बजे  जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के राष्ट्रीय संरक्षक माननीय सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव निर्दोष दिवंगत विदेश्वरी यादव व जिंदगी और मौत से जूझ रहे सेना के जवान रवि यादव को न्याय दिलाने तथा  प्रदर्शनकारियों पर गलत तरीके से दर्ज मुकदमा वापस लेने की मांग को लेकर हसपुरा की सड़कों पर उतरेेंगे। जगह-जगह नुक्कड़ सभा को संबोधित करेंगे और मांगों के समर्थन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नाम प्रेषित ज्ञापन भी सौंपेंगे। इसके बाद कलेर के हांसेडीह गांव जाएंगे, जहां मृतक विंदेश्वरी यादव के परिजनों से मुलाकात करेंगे।

बतादें ये घटना  10 दिन बीत जाने के बाद भी जिस तरीके से अब गिरफ्तारी के नाम पर खानापूर्ति की जा रही है इससे जन उबाल है। यह जानकारी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता श्याम सुंदर ने दी।

Read More

पोता के जन्मदिन पर जा रहे थे बहन को लाने,हाइवा से कुचलकर हुई मौत,परिजनों में मचा हाहाकार ,खुशी का माहौल हुआ गमगीन-किशोर चौहान,बिहटा

May 12, 2018

किशोर चौहान,बिहटा

(पटना)।पोता के जन्मदिन पर जा रहा थे बहन को लाने।हाइवा से कुचलकर हुई मौत।परिजनों में मचा हाहाकार।खुशी का माहौल हुआ गमगीन।मामला बिहटा- पतुत मार्ग पर राघोपुर तीनमुहानी पर हुई। बताया जाता है कि श्रीकांत राय के पुत्र रोहित कुमार के पुत्र मोहन का जन्मदिन था।

घर मे समारोह की तैयारी चल रही थी।पकवान बन रहे थे।लेकिन ईश्वर को कुछ और ही मंजूर था।पोते के जन्मदिन समारोह के लिये अमहारा निवासी स्वर्गीय मुटुर गोप के पुत्र श्रीकांत राय अपनी बहन के घर राघोपुर नेवता देने आये थे।साइकिल से लौटने के क्रम में विपरीत दिशा से रही हाइवा ने उन्हें कुचल दिया। साइकिल सहित उनका शव हाइवा में फंसी रही।पुलिस ने हाइवा को जप्त कर उनके शव को पोस्टमार्टम के लिये भेजा है। बिहटा सीओ ने तत्काल पारिवारिक लाभ से 20 हजार तथा कवीर अंत्येष्टि के तहत 3 हजार रूपया मुआवजा दिया है।घटना के बाद जन्मदिन का समारोह मातम में बदल गया।मृतक का दो बेटा तथा4 बेटी है।

Read More