All for Joomla All for Webmasters

भागलपुर:-बिहार बिजली श्रमिक संघ का धरना पाँच महीने से जारी, सरकार मौन

Apr 17, 2018

साकेत कुमार झा की एक रिपोर्ट ।

भागलपुर:- निजी बिजली कंपनी बीई डी पी सी एल के बेरोजगार विद्युत कामगारों के सरकारी विजली कंपनी में समायोजन को लेकर बिहार बिजली श्रमिक संघों का धरना करीब पाँच महीने से जारी है। इन सद्स्यों का कहना है कि जब तक इन बेरोजगार विद्युत कामगारों के सरकारी कंपनी में समुचित नियोजन नहीं होता है,तब तक उनका यह धरना -प्रदर्शन जारी रहेगा।धरना पर बैठे यूनियन के शाखा सचिव रियाज अंसारी एवं आशीष कुमारचौधरी    ने बताया कि निजी विद्युत कंपनी से विद्युत आपूर्ति का प्रभार छीन लिये जाने से करीब चार सौ कामगारों के समक्ष बेरोजगारी के साथ – साथ भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गयी है। उनके बीबी-बच्चे एक-एक दाने के लिए बिलख रहे हैं।

इसके बावजूद सरकार और प्रशासन के कानों पर जुएं न रेंगी। ऐसे में इनके सामने करो अथवा मरो की  स्थिति उत्पन्न हो गयी है। इन लोगों का कहना है कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी गयी तो वे आत्म दाह करेंगे।

Read More

भागलपुर:-अक्षय तृतीया एक आध्यात्मिक महोत्सव:-आर के चौधरी

Apr 17, 2018

साकेत कुमार झा की एक रिपोर्ट ।

भागलपुर- 15 वर्षों के पश्चात अक्षय तृतीया के दिन 24 घंटे का महासंयोग बन रहा है। हमारे सनातन धर्म में वर्ष के   365 दिन पूजा-पाठ दान आदि के लिए महत्वपूर्ण है। 365 दिनों में कुछ तिथियाॅ अति-महत्वपूर्ण है। इनमें अक्षय तृतीया विशेष उल्लेखनीय है। इस संबंध में ज्योतिष योग शोध केन्द्र, बिहार के संस्थापक पंo आरo केo चौधरी (बाबा-भगालपुर), भविष्यवेत्ता एवं हस्तरेखा विशेषज्ञ ने बताया कि अक्षय का शाब्दिक अर्थ है जिसका कभी क्षय न हो अथवा जो स्थायी है, वही रह सकता है जो सर्वदा सत्य है। सत्य केवल परमात्मा ही है जो  अक्षय, अखण्ड और सर्वव्यापक है। अक्षय तृतीया तिथि ईश्वर तिथि है। उन्होंने बताया कि 15 वर्षों के पश्चात इस वर्ष अक्षय तृतीया पर 24 घंटे का सर्वार्थ सिद्ध योग का महासंयोग बन रहा है। उन्होंने बताया कि अक्षय तिथि श्रीपरशुराम का जन्म दिन होने के कारण “परशुराम-तिथि” भी कही जाती है। परशुराम जी की गिनती अष्ट चिरंजीवी में की जाती है। इसलिए यह तिथि चिरंजीवी तिथि  भी कहलाती है। चार युगों में त्रैतायुग का आरम्भ इसी तिथि से हुआ है। इस वर्ष अक्षय तृतीया 18 अप्रैल 2018 (बुधवार) को है। पौराणिक व शास्त्रीय मान्यताओं के अनुसार अक्षय तृतीया के दिन किया गया गंगा स्नान, दान, जप और पूजा-अर्चना अक्षय रहती है। हमारे यहाँ अक्षय वट, अक्षय पात्र की अवतरणा है अक्षय वट वर्तमान में प्रयाग राज्य में है तथा अक्षय पात्र महाभारत काल में  द्रौपदी के पास धा। अक्षय वट से किसी भी  प्रकार का मनोकामना किया जायज तो पूर्ण होती है, वहीं अक्षय पात्र रिक्त नहीं होता। हमारे देश में आन्ध्र प्रदेश के विशाखा पटनम् जिले के सीमाचलन (सिंघाचलन) में नरसिंह भगवान का विश्व विख्यात मंदिर है। विग्रह पर पूरे वर्ष प्रतिदिन चन्दन का लेप किया जाता है और अक्षय तृतीया के दिन ही चन्दन आवेष्ठित प्रतिमा में स्वतः अग्नि प्रज्वलित हो जाती हैं और फिर अक्षय तृतीया के दूसरे दिन से पुनः चन्दन का लेप आरम्भ हो जाता है। इस दिव्य दृश्य और भगवान नरसिंह की कृपा प्राप्त करने के लिए लाखों के संख्या में भक्त पहुँचते हैं।

समस्त सनातन धर्मावलंबियों को चाहिए कि इस पुनीत अवसर का उपयोग अपने कल्याण के लिए अवश्य करें।

Read More

किशनगंज:-8 वर्षों से अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा अर्धनिर्मित आंगनबाड़ी भवन,पदाधिकारी बना है मूकदर्शक

Apr 17, 2018

विजय कुमार साह की एक रिपोर्ट ।

किशनगंज-टेढागाछ प्रखंड क्षेत्र के  चिल्हनियॉ पंचायत स्थित वार्ड नंबर 10 में अतिरिक्त आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 75 जिसका योजना संख्या वित्तीय वर्ष 2009/ 10 का है लेकिन 8 वर्ष बीत जाने के बाद भी आंगनवाड़ी केंद्र नहीं बना । बतादें इस भवन को पुरे होने में कुपोषित बच्चों को पोषित करने जैसा दिखता नजर आ रहा है । पोषक क्षेत्र के लाभुकों की माने तो इससे नन्हे-मुन्ने छोटे-छोटे बच्चों को पठन- पाठन करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है! सहज अंदाजा लगाया जा सकता है, कि सरकारी रुपया का किस तरह से दुरुपयोग होता है! यूं कहा जाय तो आमबाड़ी गांव वार्ड नंबर 10 में अर्धनिर्मित आंगनवाड़ी केंन्द्र लोगों का मुंह चिढ़ा रहा है! सरकार विकास के नाम पर लाख ढोल पीट ले लेकिन सच्चाई तो यही है। सुशासन सरकार में अब भी ग्रामीण विकास के नाम पर सिर्फ खोखले- खोखले साबित हो रहे हैं। आज भी प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में सैकड़ों अर्धनिर्मित भवन पड़े हुए मिलेगें, लेकिन ना तो इसकी नजर जिला प्रशासन को पड़ी है,ना ही स्थाननीय जनप्रतिनिधि को। आपको मालूम हो कि इस भवन को  बनाने में 8 साल से ज्यादा लग गया लेकिन भवन आज तक बनकर तैयार नहीं हुआ जबकि  कुर्सी तक भवन खड़ा कर दिया गया है । इंडिया न्यूज लाइव संवाददाता को ग्रामिणों से पता चला की यह आंगनवाडी केंद्र बनाया जा रहा है । बतादें ग्रामीणों से इसलिए पूछना पड़ा क्यकिं इसमें योजना का आजतक शिलापट्ट लगाया ही नहीं गया है। स्थानीय ग्रामीणों में जयदेव सिंह, शंभू हरिजन, बीरबल हरिजन, जवाहर प्रसाद सिंह, जय नारायण सिंह, स्थानीय वार्ड सदस्य सुशील कुमार सिंह इत्यादि ग्रामीणों ने आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि इससे जाहिर होता है कि सुशासन की सरकार में किस तरह प्रशासन का राज चलता है, यह इस  धरातल पर आकर देख सकते हैं! पंचायत सेवक शाकिर आलम द्वारा टेढागाछ मुख्यालय पर भी कई भवन को अर्धनिर्मित छोड़कर चले जाने का आरोप ग्रामीणों ने लगाया । अभिकर्ता का कुछ अता पता ही नहीं चलता है, लेकिन अखबार के माध्यम से अखबार के पन्नों में अर्धनिर्मित भवन आता है कि लापरवाही बरतने वाले को ब्लैक लिस्ट में डाल दिया जाएगा ! यह सुनने को मिलता है पर धरातल पर कुछ और ही होता है । आठ साल से आंगनवाड़ी केंद्र का नहीं बनना एक बड़ी चिंतनीय विषय है । आखिर समस्या कहां पर हैं, क्यों नहीं समाधान हो पा रहा है ? स्थानीय विभाग के लोग क्या कर रहे हैं क्या इसमें सरकार की राशि नहीं खर्च नहीं हुई है, इसकी जवाबदेही किसके पास है ?  अर्धनिर्मित भवन प्रखंड क्षेत्र में एक खोजेगें तो सैकड़ों मिलेंगे । आखीर क्यों नही बन रहा है भवन,  पूर्ण क्यों नहीं हो पाती है भवन, आखिर सरकारी रुपया का किस तरह बंदरबांट हो रहा है ये सारे सवाल का जबाव इस धरातल पर आकर देख सकते हैं इन तस्वीरों से ।

अतिरिक्त आंगनवाडी भवन नहीं बनने से आंगनबाड़ी केंद्र के  छोटे-छोटे नौनिहालों खुले आसमान के नीचे पढ़ने को मजबूर हैं । ग्रामीणों द्वारा अनेक तरह की बातें सुनना पड़ रहा है, जिला प्रशासन से सुधि लेने की स्थानीय ग्रामीणों ने मांग की है लापरवाही बरतने वाले अभिकर्ता पर कानूनी कार्रवाई करने की मांग भी की है एवं इस ओर ध्यान देकर जल्द इस भवन को पूरा करने की भी ग्रामिणों की मांग है ।

Read More

सुगौली(पू.च):-प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र से 8 पेटी शराब बरामद ,शराब माफियाओं में होने लगी हलचल

Apr 17, 2018

कुबेर पाण्डेय अभिनंदन की एक रिपोर्ट ।

सुगौली(पू.च):-बिहार सरकार ने काफी जोड़ सोर से शराब पर रोक लगा रही है लेकिन उन्ही के कर्मचारी इसका माफिया बन कर बैठे हैं । बतादें सुगौली पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर सुगौली  प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में अवैध रूप से रखे  8 पेटी विदेशी शराब बरामद कर लिया है जिसमें करीब 147 शराब की बोतलें थी । थानाध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि बंद पड़े प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के आवास में अवैध शराब रखा है । जिसके बाद पुलिस ने एक छापेमारी टीम बनाकर छापेमारी की और शराब बरामद किया ।

छापेमारी टीम में सअनि जितेंद सिंह और सैफ के जवान सम्मिलित थे । उन्होंने बताया कि इस बाबत किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है तस्कर बी.के. सिंह फरार हो गया है।

Read More

किशनगंज:- सुशासन सरकार में अपनी बदहाली पर आंसू बहाते हुए उद्धारक का बाट जोह रही सड़क

Apr 17, 2018

विजय कुमार साह की एक रिपोर्ट ।

किशनगंज-टेढागाछ प्रखंड क्षेत्र के प्रधानमंत्री सड़क हजारी चौक झाला से निशांद्रा गांव तक जाने वाली सड़क अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है! जबकि यह मुख्य सड़क बहादुरगंज प्रखंड एवं कोचाधामन प्रखंड को जोड़ने वाली मुख्य सड़क है ! जबकि इस सड़क से प्रतिदिन हजारों लोग सफर करते हैं, दिनभर वाहनों की आवाजाही लगी रहती है, फिर भी किसी को इसकी सुध लेने की फुर्सत नहीं है, सड़क जर्जर होने के कारण दो पहिया वह छोटे वाहन चालकों को आवागमन में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है ! इसके चलते इस मार्ग पर अक्सर हादसे भी होते रहते हैं ! जबकि बरसात के दिनों में तो सड़क की हालत और भी नारकी हो जाती है! जगह – जगह टूटी सड़क कई जगह तो पूरी तरह कीचड़ हो जाता है! विगत वर्ष 12 अगस्त को आई विनाशकारी बाढ़ के कारण कई जगहों पर सड़क टूट चुकी है। इस सड़क पर आवागमन करना खतरे से खाली नहीं है ।

ग्रामीण वचन देव सिंह, विजयपुरी, संजय गिरी गोपाल मंडल, सुशील मंडल, शंभू साह, सुशील साह, किशन मंडल, तौसीफ आलम, परवेज आलम, पंचानन मंडल, उदय झा, प्रदीप गिरी आदि ने जिला पदाधिकारी से अभिलंब इस ओर पहल करने की मांग की है!

Read More

कृतिका जोत्सना बनीं सीडीओ बलरामपुर,यूपी में 28 आईएएस अफसरों के तबादले,जाने कौन है-ARUN KUMAR MISHRA BALRAMPUR अरूण कुमार मिश्रा की एक रिपोर्ट

Apr 17, 2018

अरूण कुमार मिश्रा की एक रिपोर्ट

यूपी में 28 आईएएस अफसरों के तबादले*

नेहा प्रकाश विशेष सचिव संस्थागत वित्त

प्रशांत शर्मा विशेष सचिव एपीसी शाखा

लखनऊ के सीडीओ थे प्रशांत शर्मा

प्रवीन लक्ष्यकार विशेष सचिव पंचायती राज

जसजीत कौर विशेष सचिव नियोजन

सी  इंदुमती विशेष सचिव बाल विकास पुष्टाहार

चंद्र विजय सिंह विशेष सचिव माध्यमिक

संजीव सिंह विशेष सचिव आवास

अभिषेक सिंह विशेष सचिव खाद्य रसद

टीके सिबू विशेष सचिव ग्रा विकास

 दिनेश कुमार-विशेष सचिव लघु सिंचाई

हर्षिता माथुर-सीडीओ सिद्धार्थनगर बनीं

सुनील वर्मा-सीडीओ सोनभद्र बने

चांदनी सिंह-सीडीओ फतेहपुर बनीं

दिव्या मित्तल-ज्वाइंट एमडी यूपीएसआईडीसी

अवनीश राय-सीडीओ श्रावस्ती

गौरांग राठी-सीडीओ वाराणसी 

निखिल टीकाराम-सीडीओ झांसी

ईशा दुहन-सीडीओ बुलंदशहर बनीं

डॉ महेंद्र मीना-सीडीओ चित्रकूट

मनीष बंसल-लखनऊ के नए सीडीओ

मृदुल चौधरी-सीडीओ मुरादाबाद

नेहा जैन-सीडीओ फिरोजाबाद बनीं

प्रेम रंजन सिंह-सीडीओ उन्नाव बने

रवि रंजन-सीडीओ चंदौली

संदीप कुमार-सीडीओ बदायूं

राहुल पाण्डेय-सीडीओ बहराइच बने

मेघा रूपम-ज्वाइंट डायरेक्टर उपाम लखनऊ

Read More

आलमनगर (मधेपुरा)-सेविका पद पर गलत किये गये चयन को रद्द करते हुए पुनः वरीय पदाधिकारी के देखरेख में चयन की मांग

Apr 17, 2018

संतोष कुमार झा की एक रिपोर्ट ।

आलमनगर (मधेपुरा):-नेट पर जाति प्रमाण पत्र नहीं दिखने से अभ्यर्थी का चयन निरस्त करते हुए मेघा क्रमांक में दूसरे अंक प्राप्त करने वाले व्यक्ति का चयन सेविका पद के लिए किए जाने से नाराज अभ्यर्थी अनामिका कुमारी ने चयन प्रक्रिया में भारी अनियमितता बरतने का आरोप लगाते हुए जिला पदाधिकारी से न्याय की गुहार लगायी है । विदित हो कि प्रखंड के आलमनगर पूर्वी पंचायत के वार्ड नंबर 3 में सेविका सहायिका चयन में मेघा क्रमांक में  प्रथम स्थान वाले को छोड़कर द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाली वमहिला का सेविका के पद पर चयन करने की मामला को लेकर जिला पदाधिकारी सहित संबंधित सभी वरीय पदाधिकारी को आवेदन देकर गुहार लगायी है। इस बाबत मेघा क्रमांक  में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली  अनामिका  कुमारी पति शिवम कुमार ने अपने दिए गए आवेदन में बताई है कि सेविका सहायिका चयन के दौरान बनाए गए सूची में मेघा क्रमांक प्रथम में मेरा नाम दर्ज था । परंतु मुझ से कम अंक वाले जो मेघा क्रमांक में दूसरे नंबर पर है, जिसमें सोनम कुमारी का चयन गुपचुप तरीके से महिला पर्यवेक्षिका  के द्वारा कर दिया गया। उन्होंने बताया कि सेविका पद के लिए अभ्यर्थी सोनम कुमारी आलमनगर पूर्वी पंचायत के वार्ड नंबर 3 के वार्ड सदस्य एवं सेविका-सहायिका चयन समिति के अध्यक्ष की संबंधी  है । वही इस समय चयन करने आई महिला पर्यवेक्षिका  रुबीना खातून वार्ड सदस्य एवं व्यक्ति के मेल व प्रभाव में आकर मेरे द्वारा प्रस्तुत जाति प्रमाण पत्र को जाली बताते हुए आम सभा को स्थगित करते हुए चली गई ।

परंतु दूसरे ही दिन पता चला कि मेधा क्रमांक में द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाली सोनम कुमारी  को चयन पत्र दे दिया गया है ।  आवेदिका अनामिका कुमारी ने जिला पदाधिकारी सहित अन्य वरीय पदाधिकारी से मामले को गंभीरता से लेते हुए चयन प्रक्रिया की पुनः जांच कर वरीय पदाधिकारी से कराने की मांग करते हुए इस तरह के भ्रष्टाचार में लिप्त दोषी लोगों पर कार्रवाई करने की मांग की है।

Read More

हर्षिता माथुर बनीं सीडीओ सिद्धार्थनगर ,यूपी में 28 आईएएस अफसरों के तबादले,जाने कौन है- RAJESH SHARMA SIDDHARTH NAGAR राजेश शर्मा की एक रिपोर्ट

Apr 17, 2018

 राजेश शर्मा की एक रिपोर्ट 

यूपी में 28 आईएएस अफसरों के तबादले

नेहा प्रकाश विशेष सचिव संस्थागत वित्त

प्रशांत शर्मा विशेष सचिव एपीसी शाखा

लखनऊ के सीडीओ थे प्रशांत शर्मा

प्रवीन लक्ष्यकार विशेष सचिव पंचायती राज

जसजीत कौर विशेष सचिव नियोजन

सी  इंदुमती विशेष सचिव बाल विकास पुष्टाहार

चंद्र विजय सिंह विशेष सचिव माध्यमिक

संजीव सिंह विशेष सचिव आवास

अभिषेक सिंह विशेष सचिव खाद्य रसद

टीके सिबू विशेष सचिव ग्राम विकास

ए दिनेश कुमार-विशेष सचिव लघु सिंचाई

हर्षिता माथुर-सीडीओ सिद्धार्थनगर बनीं

सुनील वर्मा-सीडीओ सोनभद्र बने

चांदनी सिंह-सीडीओ फतेहपुर बनीं

दिव्या मित्तल-ज्वाइंट एमडी यूपीएसआईडीसी

अवनीश राय-सीडीओ श्रावस्ती

गौरांग राठी-सीडीओ वाराणसी 

निखिल टीकाराम-सीडीओ झांसी

ईशा दुहन-सीडीओ बुलंदशहर बनीं

डॉ महेंद्र मीना-सीडीओ चित्रकूट

मनीष बंसल-लखनऊ के नए सीडीओ

मृदुल चौधरी-सीडीओ मुरादाबाद

नेहा जैन-सीडीओ फिरोजाबाद बनीं

प्रेम रंजन सिंह-सीडीओ उन्नाव बने

रवि रंजन-सीडीओ चंदौली

संदीप कुमार-सीडीओ बदायूं

राहुल पाण्डेय-सीडीओ बहराइच बने

मेघा रूपम-ज्वाइंट डायरेक्टर उपाम लखनऊ

कृतिका जोत्सना-सीडीओ बलरामपुर

Read More