All for Joomla All for Webmasters

उदाकिशुनगंज(मधेपुरा):-मुकेश साहनी के जन्म दिन पर सन ऑफ मल्लाह के कार्यकर्ताओं ने दी बधाई

Mar 31, 2018

धर्मेन्द्र कुमार मिश्रा की उदाकिशुनगंज से एक रिपोर्ट ।

उदाकिशुनगंज (मधेपुरा)-उदाकिशुनगंज प्रखण्ड क्षेत्र के लश्करी पंचायत के बाराटेनी गाँव में निषाद विकास संध के राष्ट्रीय  अध्यक्ष सन ऑफ मल्लाह  मुकेश सहनी के 35 वाँ जन्म दिवस पर सभी कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे को रंग अबीर लगाकर और मिठाई खिलाकर मुकेश सहनी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं दी।जन्म दिन की शुभकामना का आयोजन प्रदेश युवा सचिव ब्रम्हदेव सहनी ने अपने निज निवास स्थान लश्करी पंचायत के बाराटेनी पर किया।उन्होंने मुकेश सहनी के जन्म दिन पर बधाई देते हुए कहा कि निषाद संघ को आरक्षण मिलना चाहिए।आरक्षण में एस सी एस टी की तरह सारी सुविधाएं भी मिलनी चाहिए।यदि छह माह के भीतर आरक्षण नहीं मिलता है तो  मुकेश साहनी के नेतृत्व में एक पार्टी का गठन किया जाएगा।

बधाई कार्यक्रम में निषाद विकास  संध के जिला अध्यक्ष संजय कुमार सहनी,प्रदेश उपाध्यक्ष प्रो0 शशिभूषण उर्फ लड्डू सिंह  निषाद ,प्रदेश युवा सचिव ब्रह्मदेव  कुमार सहनी , प्रदेश सचिव  कामेश्वर सिंह निषाद , प्रदेश  महासचिव सुदेश सिंह निषाद , प्रदेश सलाहकार वीरचंन्द्र पटेल निषाद ,जिला उपाध्यक्ष  उत्तमीमलाल सहनी, मुखिया मनि कुमार सहनी , जिला महिला अध्यक्ष  रेखा देवी ,जिला प्रभारी  राजेन्द्र मुखिया ,टुनटुन मुखिया , देव कुमार सहनी, सचिदा चौधरी,धीरेन्द्र मंडल,दानी मुखिया,सलेन्द्र मंडल ,सुभाष सिंह, प्रभु सिंह ,सुभाष सहनी , गंगेश महतो, युवा जिला अध्यक्ष  राम मुखिया ,कंचन चौधरी, रणविजय चौधरी,पूर्व मुखिया नीरज सिंह निषाद ,रामजी मंडल सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Read More

दाउदनगर (औरंगाबाद):-कार्यपालक सहायक संघ के बैनर तले दिया गया धरना

Mar 31, 2018

गणेश कुमार की एक रिपोर्ट ।

दाउदनगर (औरंगाबाद)-बिहार राज्य कार्यपालक सहायक संघ जिला  इकाई औरंगाबाद के द्वारा दाउदनगर के अनुमंडल के पास एक दिवसीय धरना पर बैठे  कार्यक्रम जिला मुख्यालय में होनी थी पर अशांति के कारण दाउद नगर में आयोजित किया गया   । एक दिवसीय धरना कार्यक्रम जिला अध्यक्ष भूपेंद्र कुमार ठाकुर की अध्यक्षता में हुयी । मंच संचालन सुरेंद्र कुमार भारतीय ने किया । जिला अध्यक्ष भूपेंद्र कुमार ठाकुर ने कहा कि हमलोगों की मुख्य मांग निम्नवत है ।

मुख्य मांग :-

1  स्थायी करण

2   मानदेय का निर्धारण

3 समान काम समान वेतन

4 कार्यपालक सहायक जो कार्य से मुक्त हुये उन्हें वापस करना

5 आंदोलन के क्रम में सहायक के उपर दर्ज मुकदमा को वापस लेना

उन्होने कहा कि सरकार इस ओर गंभीर नहीं हो रही है और तो और धमकी भी मिल  रही है कि वापस काम पर आओ नहीं तो सेवा से बर्खास्त कर दी जाएगी । इस बात को लेकर सहायकों द्वारा  और भी जोरदार विरोध शुरू हो गई । उन्होने कहा कि  सरकार की नियत ठीक नहीं है परीक्षा लेने के बहाने हटाने का प्रयास भी किया जा रहा है। जब सहायक लिखित परीक्षा और टाइपिंग टेस्ट में उत्तीण हुए है तब जाकर जॉब मिला था । यह कैसी सरकार का निर्णय है दोबारा एग्जाम। इतना ही नहीं वेतन 12000 से भी कम मिलती है । जबकि कार्यपालक सहायक सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं में अपनी भूमिका निभाते हैं और देर रात तक कंप्यूटराइजेशन का काम करते हैं । कार्यालय सहायक सरवन कुमार ने बताया कि यह सरकार निकम्मी सरकार है । युवाओं के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं ,युवाओं के भविष्य के बारे में ना सोच कर धमकी दे रही है यह तुगलकी फरमान है । कार्यपालक सहायक के मुख्य मांग को जब तक  सरकार नहीं मान लेती है तब तक हड़ताल जारी रहेगा । संजू कुमारी ने कही  की हम कार्यपालक सहायक एकजुटता का परिचय देंगे तो सरकार को झुकना ही पड़ेगा और हम लोगों का अधिकार भी मिलेगा । समान काम समान वेतन पर सरकार को गंभीर होनी चाहिए । इस मौके पर औरंगाबाद जिले भर से आए  सहायकों का स्वागत सत्येंद्र कुमार ,जहांगीर आलम, दिनेश कुमार सहित दाउदनगर अनुमंडल  अध्यक्ष गणेश कुमार ने किया ।

इस मौके पर प्रभात कुमार, कुंदन कुमार ,संजय कुमार, सुमित कुमार ,अविनाश कुमार, माधुरी कुमारी ,संजू कुमारी ,कविता कुमारी ,मुकेश कुमार सहित दर्जनों कार्यपालक सहायक मौजूद थे ।

 

Read More

दाउदनगर(औरंगाबाद):-शिक्षकों ने शिक्षा और सरकारी शिक्षण के गुणवत्ता विकास परकिया विचार-विमर्श

Mar 31, 2018

गणेश कुमार की एक रिपोर्ट ।

दाउदनगर(औरंगाबाद)-बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ गोप गुट की मासिक बैठक  मध्य विद्यालय में  आयोजित की गयी । जिसमें शिक्षा और सरकारी शिक्षण के गुणवत्ता विकास पर विचार किया गया। चर्चा की शुरुआत करते हुए गोप गुट के प्रवक्ता  गोपेंद्र कुमार सिन्हा गौतम ने बिहार में गिरती  शैक्षणिक माहौल पर  प्रकाश डाला।  इसमें सुधार करने के लिए शिक्षकों को आगे आने की जरूरत बताई। चर्चा को आगे बढ़ाते हुए बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के  प्रदेश महासचिव नागेंद्र सिंह ने इसके लिए प्रखंड स्तर पर आने वाले दिनों में गोप गुट की तरफ से शिक्षक उन्मुखीकरण के लिए कार्यशाला आयोजित करने की बात कही । जिला अध्यक्ष डॉ मधेश्वर सिंह ने सरकारी शिक्षा को फिर से पटरी पर लाने के लिए गांव चलो अभियान शुरुआत करने पर जोर दिया । साथ ही आज से संगठन ने विभिन्न विद्यालयों के शिक्षकों को संगठन की सदस्यता दिला कर सदस्यता अभियान की शुरुआत की ।

आज सदस्यता लेने वाले शिक्षकों में प्रमुख रुप से धर्मेंद्र कुमार, उमेश यादव ,उषा कुमारी, रियाजुद्दीन ,महेंद्र कुमार, विजय कुमार ,अरुण कुमार ,नीलम कुमारी, उमाशंकर, ब्रजराज सिंह, संजय कुमार विद्यार्थी, शांति कांति कुमारी, रंजीत कुमार, हर्षदेव सिंह ,योगेश कुमार ,सुखदेव राम, दिनेश सिंह, रामाकांत सिंह आदि यह सदस्य थे ।बताया गया कि सदस्यता अभियान पूरे अप्रैल माह तक चलेगा । आज के इस बैठक में गोपाल प्रसाद गुप्ता ,प्रदीप कुमार ,प्रमोद कुमार, मो प्रवेज आलम, रंजीत कुमार रत्ना , लालदेव सिंह, मिथलेश कुमार ,उमेश यादव, जितेंद्र कुमार ,राजेश कुमार, रविंद्र कुमार आदि लोग उपस्थित थे।

Read More

मिसाल : हनुमान मंदिर पहुंचे यूपी के मंत्री मोहसिन रजा, लगाया भोग, खाया प्रसाद-INDIA NEWS LIVE TEAM

Mar 31, 2018

INDIA NEWS LIVE TEAM

मंदिर में मोहसिन रजा और उनके बच्चों के राम नाम लिखी हुई सिंदुरी चुनरी भी अपने शरीर पर धारण की और माथे पर सिंदुर का टीका लगाया. 

मिसाल : हनुमान मंदिर पहुंचे यूपी के मंत्री मोहसिन रजा, लगाया भोग, खाया प्रसाद

लखनऊ : यूपी की योगी सरकार के एक मंत्री ने आज हिंदू-मुस्लिम सौहार्द की मिसाल पेश की है. शनिवार को हनुमान जयंती के मौके पर देशभर के हनुमान मंदिरों में विशेष पूजा-अर्चना का आयोजन किया गया, शोभा यात्राएं निकाली गईं और जगह-जगह भंडारे तथा प्रसाद वितरण का आयोजन किया गया था. ऐसे में योगी सरकार के एकमात्र अल्पसंख्यक मंत्री मोहसिन रजा ने भी अपने परिवार के साथ हनुमान मंदिर में पूजा-अर्चना की और भगवान बजरंगबली का भोग लगाकर बच्चों को प्रसाद का वितरण किया. 

मोहसिन रजा लखनऊ के अलीगंज स्थित हनुमान मंदिर पहुंचे. उनके साथ उनके बेटा-बेटी भी थे. मंदिर में मोहसिन और उनके बच्चों के राम नाम लिखी हुई सिंदुरी चुनरी भी अपने शरीर पर धारण की और माथे पर सिंदुर का टीका लगाया. मंदिर में मोहसिन ने रामभक्त हनुमान की पूजा-अर्चना की और उन्हें भोग भी लगाया. बाद में इस भोग का मंत्री ने मंदिर में मौजूद बच्चों में वितरण भी किया और सभी लोगों को हनुमान जयंती की शुभकामनाएं दीं. 

बताया जाता है कि अलीगंज के इस मंदिर को अवध के नवाब वाजिद अली शाह की माता आलिया बेगम ने बनवाया था. मोहसिन रजा योगी सरकार में एकलौते मुस्लिम मंत्री हैं और वे अल्पसंख्क मामलों के मंत्री हैं. 

Mohsin Raza

इस मौके पर जब मीडियाकर्मियों ने उनसे सवाल किया तो उन्होंने कहा कि वह भारत के नागरिक हैं और हर धर्म तथा मजहब में वे आस्था रखते हैं. उन्होंने कहा कि उनका मजहब भाईचारे का मजहब है. मोहसिन ने कहा कि जहां भाईचारा और आपसी सौहार्द होता है, वे वहां जरूर जाते हैं. अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री ने कहा कि यह केवल मोदी और योगी राज में ही संभव हुआ है कि जहां सभी धर्मों के लोग आजाद होकर अपने ख्यालों का आदान-प्रदान कर रहे हैं और खुद को महफूज मान रहे हैं.

Read More

यूपी में दो जगह तोड़ी गई बाबा साहेब की मूर्ति, माहौल बिगाड़ने की कोशिश-INDIA NEWS LIVE TEAM

Mar 31, 2018

INDIA NEWS LIVE TEAM

देश में महापुरुषों की मूर्तियों को तोड़ने का सिलसिला थम नहीं रहा है.असामाजिक तत्वों ने एक बार फिर से बाबा साहेब डॉ. भीमराव आंबेडकर की मूर्ति को निशाना बनाया है. उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद और सिद्धार्थनगर में माहौल बिगाड़ने के लिए देर रात आंबेडकर की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया. सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू कर दी है.

आपको बता दें कि ये खबर ऐसे समय में आई है, जब हाल ही में राज्य सरकार ने संविधान निर्माता डॉ. आंबेडकर के नाम के साथ उनके पिता का नाम भी जोड़ने का फैसला किया है. यूपी के राज्यपाल की सलाह के बाद अब बाबा साहेब का नाम ‘डॉ. भीमराव रामजी आंबेडकर’ लिखा जाएगा.

झूंसी में तोड़ी मूर्ति, हंगामा
इलाहाबाद के झूंसी त्रिवेणीपुरम इलाके असामाजिक तत्वों ने शुक्रवार रात (30 मार्च) को डॉ. आंबेडकर की मूर्ति को निशाना बनाया. शनिवार (31 मार्च) की सुबह लोगों ने प्रतिमा का सिर टूटा पाया तो इसे लेकर वहां हंगामा खड़ा हो गया. इस घटना को माहौल बिगाड़ने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है. इसे लेकर कोई गड़बड़ी न हो इसलिए इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.

Statue vandalised of Dr. BR Ambedkars by unidentified people in Allahabad Siddhartha Nagar in uttar pradesh

सिद्धार्थनगर में तोड़ा मूर्ति का हाथ
वहीं उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर के डुमरियागंज थाना क्षेत्र से भी ऐसी ही एक घटना सामने आई है. जहां असामाजिक तत्वों ने शुक्रवार रात (30 मार्च) में आंबेडकर की मूर्ति का एक हाथ तोड़ दिया. सुबह क्षतिग्रत मूर्ति देखने के बाद स्थानीय लोगों ने रोष दिखाया. घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और कार्रवाई का आश्वासन दिया. पुलिस के आश्वासन के बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ.

पहले भी हो चुकी है घटनाएं
यूपी के अलग-अलग शहरों में पिछले दिनों भी बाबा साहब आंबेडकर की मूर्ति को निशाना बनाया गया था. आजमगढ़, मेरठ, एटा में आंबेडकर की प्रतिमा को तोड़ने और नुकसान पहुंचाने की घटनाएं सामने आई थीं. आपको बता दें कि त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मिली जीत के बाद समर्थकों ने लेनिन की मूर्ति पर बुलडोजर गिरा दिया था. इसके बाद तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल से लेकर उत्तर प्रदेश में असामाजिक तत्वों द्वारा महापुरुषों की मूर्तियों को तोड़ने और खंडित करने का सिलसिला शुरू हो गया.

PM ने जताई थी नाराजगी
आपको बता दें, कि देशभर में मूर्ति तोड़े जाने की घटनाओं को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गहरी नाराजगी जताई थी. गृह मंत्रालय ने इसे गंभीरता से लेते हुए सभी राज्यों को इस बारे में विशेष चौकसी और सतर्कता बरतने का निर्देश दिया था.

Read More

आखिरकार लोकतंत्र सेनानी चौधरी इरशाद अहमद गद्दी की मेहनत ले ही आयी,प्रशासन झुका ,पिपरा पुल का निर्माण कार्य शुरू -SUSHIL SRIVASTVA सुशील श्रीवास्तव की एक रिर्पोट ,उतरौला

Mar 31, 2018

सुशील श्रीवास्तव की एक रिर्पोट ,उतरौला

उतरौला (बलरामपुर)आखिरकार लोकतंत्र सेनानी चौधरी इरशाद अहमद गद्दी की मेहनत ले ही आयी।प्रशासन झुका और उतरौला से तुलसीपुर को जोड़ने वाली पिपरा पुल का निर्माण कार्य शुरू हो गया ।उन्होंने क्षेत्र के विकास कार्यों को लेकर आमरण अनशन,धरना प्रदर्शन व ज्ञापन के माध्यम से शासन को मांगे मनवाने पर मजबूर कर दिया। 
पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के शासन काल मे राप्ती नदी पर पिपराघाट पुल का निर्माण कार्य का उद्घघाटन हुआ था और कुछ भाग निर्माण होने के बाद निर्माण कार्य रूक गया। वर्षों से बंद पड़ें पिपरा घाट पुल के निर्माण कार्य व सड़क निर्माण को लेकर लोकतंत्र सेनानी चौधरी इरशाद ने ग्यारह मार्च 2018 को धरना प्रदर्शन चक्का जाम करके शासन प्रशासन जगाने का काम किया।जिसके फलस्वरूप शासन ने संज्ञान लेते हुए अधूरे पड़े पुल व सड़क निर्माण के लिए लगभग 28करोड़ का धनराशि निर्गत कर निर्माण कार्य शुरू कराया। क्षेत्र वासी संतोष कुमार श्रवण,अमित कुमार यादव,धर्मेन्द्र कुमार गुप्त,दिनेश कुमार विमल,आशीष कुमार यादव, आदि ने उम्मीद जताया है कि आगामी नवरात्रि पर मां पाटेश्वरी देवी मंदिर के दर्शन करने वाले श्रद्धालुओ को कम खर्च व कम समय में दर्शन करने की कामना पूरी होगी।

Read More

सादुल्ला नगर : हवा हवाई साबित हो रहा एंटी भूमाफिया अभियान,सादुल्ला नगर में कागजों पर सीमित होकर रह गई -SUSHIL SRIVASTVA सुशील श्रीवास्तव की एक रिर्पोट , सादुल्ला नगर

Mar 31, 2018

सुशील श्रीवास्तव की एक रिर्पोट , सादुल्ला नगर

सादुल्ला नगर/ बलरामपुर-हवा हवाई साबित हो रहा एंटी भूमाफिया अभियान सार्वजनिक भूमि से अवैध अतिक्रमण हटाए जाने के लिए योगी सरकार की महत्वाकांक्षी अभियान कागजों पर सीमित होकर रह गई है सार्वजनिक जमीनों से नाम मात्र का अतिक्रमण हटाकर जमीनों से पूर्ण अतिक्रमण हटाने की रिपोर्ट शासन को भेज दी जाती है 

थाना सादुल्लाह नगर के ग्रा.पं.छितलूपुर निवासी घन श्याम मौर्या ने बताया कि गाँव की सार्वजनिक जमीन से अवैध अतिक्रमण हटाने आई एंटी भूमाफिया टीम ने एक पक्ष का अतिक्रमण हटवाया दूसरे पक्ष का कब्जा बरकरार रहा अतिक्रमण विरोधी अभियान के बाद पुन: गांव के दबंगों ने सार्वजनिक भूमि पर पक्का निर्माण शूरू कर दिया शिकायत करने पर एस.डी.एम.उतरौला ने निर्माण रोकने का आदेश दिया लेकिन दबंगों द्वारा स्थानीय पुलिस के सहयोग से पक्का निर्माण कर छत ढ़लाई का काम पूरा कर लिया गया घनश्याम मौर्या ने बताया कि सादुल्लाह नगर पुलिस ने यह अाख्या भेज दी गई कि अतिक्रमण हटा दिया गया है घन स्याम मौर्या ने बताया कि गाटा सं.503 नवीन परती, गाटा सं.495 जलमग्न तालाब भूमि, गाटा सं.401 नवीन परती व परिक्रमा मार्ग के नाम से आरक्षित गाटा सं.400 चकमार्ग  आदि सार्वजनिक स्थानों पर गांव के दबंगों ने अवैध अतिक्रमण कर रखा है तालाब व चकमार्ग पर अवैध अतिक्रमण से गांव में जलनिकासी व अपने खेतों तक लोगों को आने जाने में अनेक दिक्कतों का सामना करना पड़ता है उक्त के संबंध में सार्वजनिक भूमि से अतिक्रमण हटाने हेतु कई बार एंटी भूमाफिया सेल सहित उच्चाधिकारीयों को प्रार्थना पत्र दिया गया लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई भूमाफिया के हौसले बुलंद हैं शिकायत से नाराज गांव के दबंग गंभीर परिणाम भूगतने की धमकी दे रहे हैं 

इसी प्रकार थाना सादुल्लाह नगर के मददौ चौरा में सार्वजनिक भूमि से अवैध अतिक्रमण हटाने के बाद पुन: अतिक्रमण कर लिया गया पुलिस रिपोर्ट के अनुसार कब्जा हटा दिया गया थाना सादुल्लाह नगर के पतकरपुर निवासी राधेश्याम श्रीवास्तव ने बताया कि पतकर पुर में खलिहान,चकमार्ग, खेल मैदान,स्कूल भूमि, तालाब,शमशान भूमि पर अवैध अतिक्रमण है कई बार शिकायत पर कोई कार्यवाही नहीं हुई 

उक्त संबंध में एस.डी.एम.उतरौला ने बताया कि पैमाईश करवा कर सार्वजनिक जमीन पर अवैध अतिक्रमण पाए जाने पर अतिक्रमण मुक्त कराया जाएगा

Read More

सादुल्ला नगर : नारी सुरक्षा, स्वच्छता एवं स्वास्थ्य के प्रति जागरुकता अभियान-SUSHIL SRIVASTVA सुशील श्रीवास्तव की एक रिर्पोट , सादुल्ला नगर

Mar 31, 2018

सुशील श्रीवास्तव की रिपोर्ट

सादुल्ला नगर / बलरामपुर-नारी सुरक्षा, स्वच्छता एवं स्वास्थ्य के प्रति समृद्धि सोशल वेलफेयर सोसायटी द्वारा चलाए जा रहे  जागरुकता अभियान के क्रम में रेहरा बाजार स्थित महाराणा प्रताप विद्यालय में आयोजित कार्यशाला में बालिकाओं को किशोरावस्था में होने वाले सामाजिक,शारीरिक,मानसिक परिवर्चतन के बारे में बताया गया कार्यशाला में समृद्धि सोशल वेलफेयर सोसायटी की अध्यक्ष डा.रुचि पांडेय ने लड़कियों में किशोरावस्था में होने वाले परिवर्तन पर खुलकर चर्चा की उन्होंने कहा कि  किशोरावस्था वह समय है, जब मानव अपना बचपन छोड़कर जवानी की दहलीज पर कदम रखता है। इस समय बालक और बालिका से युवक और युवती बनने की प्रक्रिया शुरू होती है। यह 10 से 19 वर्ष की अवस्था है। इस दौरान बहुत सारे परिवर्तन होते है। ये परिवर्तन मस्तिष्क में स्थित पिटयुटरी ग्लेंड के स्त्राव के कारण होता है जो हारमोन्स की क्रियाशीलता के फलस्वरूप है। इन्हीं हार्मोन्स के कारण किशोरावस्था के शारीरिक भावनात्मक व सामाजिक परिवर्तन होते है।

सामान्य तौर पर लड़कियों में 10 से 15 वर्ष की आयु  में परिवर्तन प्रारंभ हो जाते है  लड़कियो में एस्ट्रोजन और प्रोजोसट्रोन उत्पन्न होते है।

लड़कियों में शारीरिक परिवर्तन 

अचानक शरीर में विकास ऊंचाई और वजन में वृद्धि होती है। कुल्हे बड़े होते हे और कमर पतली होती जाती है। शरीर में स्त्री-सुलभ सुडौलता आ जाती है।

प्रजनन अंगों का विकास  योनि/गर्भाशय में वृद्धि होती है

योनि मार्ग से सफेद चिपचिपे द्रव का स्राव होता है। यह स्वाभाविक है।मासिक धर्म की शुरूआत ।

बगल और जनजांगों के आस-पास बाल उगते है।

स्तन बडे और विकसत हो जाते है।  कभी-कभी एक स्तन दूसरे से अधिक बड़ा होता है।

आवाज पतली होने लगती है।

चेहरे पर मुॅंहासे आने लगते है।

पारिवारिक संबंधों में घनिष्ठता कम होने लगती है । माता-पिता और किशोर-किशोरियों के बीच दूरी बढ़ जाती है।

सभी की रोक-टोक बुरी लगती है।

माता-पिता की अपेक्षा दोस्तों या विपरीत लिंग के दोस्तों को अधिक महत्व दिया जाता है

पसंदीदा व्यक्ति और दोस्तों के विचार व जीवन शैली से प्रभावित होना।

जीवन मूल्यों व आदर्शो के विषय में भ्रमित होना आदि सामाजिक, भावनात्मक व शारीरिक परिवर्तन होते हैं

डा.रुचि ने बताया कि किशोरावस्था के दौरान अभिभावकों को अपने बच्चों से दोस्ताना व्यवहार करना चाहिये। उनसे कुछ बिना छिपायें सारी बातों को जो किशोरावस्था के परिवर्तन से संंबंधित है चर्चा करना चाहिये। यह शरीर के विकास की एक स्वभाविक प्रक्रिया है, उन्हें बताना चाहियें। उन्हें अकेले में नहीं रहने देना चाहिये।

इसके अतिरिक्त शरीर की साफ-सफाई और उनके देखभाल की जानकारी देनी चाहिये। शरीर और बेहतर स्वस्थ्य कैसे रहे इसके लिये संतुलित आहार, खेल-कूद व व्यायाम के विषय में ध्यान देना चाहिये।उन्होंने कहा कि किशोरावस्था में अपने साथियों का दबाव होता है जिसके चलते उनके समूह में रहने के लिये अपने दोस्तों की आदतों का अनुकरण करना होता है, अत: दोस्तों की बुरी आदतें किशोर-किशोरियों को जोखिम भरे जीवन में ला सकती है अत: साथियों के दबाव से बचना होगा और अपने विवेक व समझदारी का उपयोग करन करना होगा।

अपने साथियों के दबाव में न आना ना कहना सीखे

अपनी इच्छा एवं आदर्श का सम्मान करें

अपने निर्णय स्वयं लें 

दूसरों द्वारा आप पर हावी होने के प्रयास को पहचाने और उससे बचें 

आत्मविश्वास रखे और जब ’’न’’ कहना हो तो ’’न’’ कहने का आनंद लें।

ऐसी परिस्थिति में ही न पड़ना जहां अनुचित दबाव हो

घर में तथा विद्यालय में उचित स्नेह व प्रशंसा न मिलने पर, इस आवश्यकता की पूर्ति दोस्तों द्वारा करने के लिये उनके दबाव व प्रभाव में आना 

साथियों के दबाव में आने के कारण को पहचान कर उसका निषेध करना उचित होता है।

डा.रुचि पांडेय ने माहवारी के दौरान सेनेटरी नेपकिन के प्रयोग की विधि बताई व उसके लाभ बताए उन्होंने गुड व बैड टच अच्छे व बुरे स्पर्श के भेद से भी अवगत कराया कार्यशाला को रचना सिंह,डा.आस्था मिश्रा,अमित सिंह आदि ने भी सम्बोधित किया डा.सरिता मल्ल,उपेंद्र, प्रभुदयाल, उमा श्रीवास्तव,शीतल गुप्ता,वंदना द्विवेदी,बिंदुलता,सीमा सिंह,भानू प्रकाश सिंह,काजल गुप्ता,मुस्कान,मनीषा गुप्ता,कोमल,अमृता,कंचन, रुचि सिंह,मुस्कान सिंह,पूजा,ज्ञानमति,संध्या,गीता,सीता आदि मौजूद रहे

Read More